छत्तीसगढ़ : साल का सबसे बड़ा नक्सली हमला, 22 जवान शहीद, रॉकेट लॉन्चर और एलएमजी का इस्तेमाल

(Photo : Twitter/@ANI)

नक्सलियों ने सुरक्षा बलों को घेर लिया था, ऑपरेशन अभी भी जारी, गृह मंत्री शाह ने छतीसगढ़ सीएम को किया फोन

रायपुर, 4 अप्रैल (आईएएनएस)| छत्तीसगढ़ के बीजापुर में शनिवार को सुरक्षा बल और नक्सलियों के बीच करीब नौ घंटे से भी अधिक समय तक मुठभेड़ हुई। मुठभेड़ के दौरान २२ जवान श्हीद हो गए जबकि सीआरपीएफ का एक जवान लापता है। ३१ जवान घायल हो गये हैं। सूबे के डीजी डीएम अवस्थी ने इस बात की पुष्टि की है.  सुरक्षा बलों ने नक्सलियों के खिलाफ बीजापुर में यह ऑपरेशन चलाया था। बताया जा रहा है कि नक्सलियों ने देसी रॉकेट लॉन्चरों और एलएमजी का उपयोग किया था। सुरक्षा बलों पर हमला नक्सलियों के संगठन पीपुल्स लिबरेशन ग्रुप आर्मी प्लाटून वन की युनिट ने किया जिसका नेतृत्व हिडमा करता है। सुरक्षा बलों ने भी नक्सल काडर के 15 नक्सली मार गिराये हैं। 
जानकारी के अनुसार नक्सलियों ने सुरक्षा बलों को घेर कर गोलियों, नुकीले हथियारों और रॉकेट लॉन्सर से हमला किया। लगभग 300 नक्सली इस हमले में शामिल बताये गये हैं। सुरक्षा कर्मियों की ओर से ऑपरेशन अभी भी जारी बजाया गय है। 
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार सुबह छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को फोन कर बीजापुर में हुई नक्सली घटना के संबंध में विस्तृत चर्चा की। मुख्यमंत्री बघेल ने केंद्रीय गृह मंत्री को बीजापुर में राज्य और केंद्र के सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ की मैदानी स्थिति से अवगत कराया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि, मुठभेड़ में सुरक्षा बलों को हुई क्षति दुखद हैं। लेकिन सुरक्षा बलों के हौंसले बुलंद हैं और नक्सली हिंसा के विरुद्ध यह लड़ाई हम ही जीतेंगे। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मुख्यमंत्री से कहा कि, केंद्र सरकार और राज्य सरकार मिलकर इस लड़ाई को अवश्य जीतेंगे। वहीं केंद्र सरकार की तरफ से जो भी आवश्यक मदद होगी वो राज्य सरकार को दी जायेगी। साथ ही सीआरपीएफ के महानिदेशक को घटना स्थल पर जाने के निर्देश भी दिए हैं।
मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि, नक्सल हिंसा से प्रभावित क्षेत्रों में हो रहे लगातार विकास कार्यों से ग्रामीणों का नक्सलियों से मोह भंग हो रहा है और वे लगातार विकास की मुख्यधारा से जुड़ रहे हैं । स्वास्थ्य , शिक्षा और अन्य सुविधाएं अंदरूनी गांवों तक सुलभ हो रही हैं और नक्सली विचारधारा से लोग विमुख हो रहे है। इससे बौखला कर नक्सली इस तरह के हमले कर अपनी उपस्थिति दर्ज कराने की कोशिश कर रहे हैं । राज्य सरकार न इससे डरने वाली हैं और नहीं अपने विकास कार्यों को हर गांवों तक पहुंचाने के संकल्प से डिगने वाली हैं। हालांकि इलाके में बड़े पैमाने पर तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। 
नक्सलियों से मुठभेड़ के दौरान जवानों के शहीद होने पर भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने गहरा दुख जताते हुए श्रद्धांजलि दी है। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि संकट की घड़ी में जवानों के परिवार के साथ पूरा देश खड़ा है। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने रविवार को कहा, हमले में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं। राष्ट्र इन वीर सपूतों का सदैव ऋणी रहेगा। ईश्वर शोकाकुल परिजनों को दु:ख सहने की शक्ति प्रदान करें। इस संकट की घड़ी में सारा देश आपके साथ है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें