दुनिया भर के सीईओ का मानना, अगले एक से डेढ़ साल में आएगी भयंकर मंदी

कॉन्फ्रेंस बोर्ड द्वारा किए गए एक सर्वेक्षण के अनुसार अगले 12 से 18 महीनों में भयंकर मंदी देखने को मिलेगी

इस समय भारत समेत दुनिया भर के देशों में मंहगाई बढ़ रही है. इसी बीच एक सर्वेक्षण के अनुसार, दुनिया के 60 प्रतिशत से अधिक मुख्य कार्यकारी अधिकारियों (सीईओ) का मानना है कि अगले 12 से 18 महीनों में भयंकर मंदी देखने को मिलेगी। पैंसठ प्रतिशत सीईओ का मानना है कि जिस क्षेत्र में उनकी कंपनी काम करती है वह पहले से ही मंदी में है। इस सर्वेक्षण में 750 सीईओ ने भाग लिया था।
आपको बता दें कि कॉन्फ्रेंस बोर्ड द्वारा किए गए एक सर्वेक्षण के अनुसार, यूरोजोन में अब तक जीडीपी में वृद्धि देखी जा रही है, लेकिन अहम सवाल यह है कि क्या यह वृद्धि जारी रहेगी। रिपोर्ट में कहा गया है, "बढ़ती मुद्रास्फीति के कारण लोगों की क्रय शक्ति घट रही है।" दूसरी ओर, यूक्रेन में युद्ध का माल की आपूर्ति पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है। इन दोनों कारकों के कारण मंदी की संभावना है।
इस बीच, संयुक्त राज्य अमेरिका में मंदी की संभावना बढ़ गई है। बैंक ऑफ अमेरिका ग्लोबल रिसर्च के मुताबिक, अगले साल अमेरिका में मंदी की 40 फीसदी संभावना है। दूसरी ओर, 70 प्रतिशत प्रमुख अकादमिक अर्थशास्त्रियों का मानना है कि अमेरिका अगले साल मंदी की चपेट में आएगा। फेडरल रिजर्व के मुताबिक, जीडीपी 2021 की चौथी तिमाही से 2022 की चौथी तिमाही तक 1.7 फीसदी बढ़ने का अनुमान है। जो मार्च में 2.8 फीसदी रहने का अनुमान था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें