रात में सपना आया ‘परिवार को मार डाल’, फिर दो घंटे चला मौत का तांडव

(Photo Credit:pixabay.com)

रात के अंधेरे में परिवार के सदस्यों पर किया हमला, कई समय से है डिप्रेशन का शिकार

राजस्थान के अजमेर में से एक हृदय विदारक घटना सामने आई है। जहां एक शख्स ने अपने ही परिवार के सभी लोगों को मौत के घाट उतार दिया। शख्स ने पहले तो अपनी माता और छोटे भाई को हथोड़ा मार के मौत के घाट उतार दिया। पर इतने में भी उसका दिमाग शांत नही हुआ और उसने इसके बाद अपने पिता और अन्य तीन भाइयों पर भी हमला किया। इसके बाद वह घटनास्थल पर से फरार हो गया। 
रिपोर्ट के अनुसार, आरोपी की पहचान अमरचंद के रूप में हुई है। जिसने माता कमला देवी और छोटे भाई शिवराज की हत्या कर दी है। अमरचंद ने अपनी भाभी और भतीजी पर भी हमला किया था, पर किसी तरह वह अपनी जान बचाने में सफल रहे थे। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, रात के 2 बजे से 4 बजे तक लगभग दो घंटे घर की सभी लाइट बंद कर आरोपी मौत का तांडव मचा रहा था। हालांकि घटना के 15 घंटो बान पुलिस ने अमरचंद को हिरासत में लिया है। 
सबसे पहले अमरचंद नीचे के रूम में सो रही माँ के पास गया, जहां उसकी भतीजी भी सो रही थी। अमरचंद ने हथोड़ी मार कर अपनी माता की हत्या कर दी और साथ ही अपनी भतीजी पर भी हमला किया। पर किसी तरह वह अपनी जान बचा कर वहाँ से भाग निकली। इसके बाद वह अपने छोटे भाई के पास पहुंचा और उसे जगाकर कहा की उसे माँ बुला रही है। जैसे ही उसका छोटा भाई शिवराज उठा, अमरचंद ने उसके ऊपर भी हथोड़ी से वार किया। जिसके चलते उसकी भी मौत हो गई। इसी तरह वह घर के हर सदस्य पर हमला करता गया। 
पूछताछ में आरोपी ने कहा की जब वह रात को छत पर सो रहा था। तो उसे सपना आया की हथियार उठा और अपने परिवार के सभी सदस्यों को मार डाल। इसके बाद जब उसकी नींद खुली तो उसने इस घटना को अंजाम दिया। हालांकि पुलिस इस बात को मानने को तैयार नहीं है। गाँववालों ने बताया की वह डिप्रेशन का शिकार था। सबसे ज्यादा हैरानी की बात तो यह है की जब गाँववालों से उसे माता और भाई के मौत की जानकारी मिली तो वह रोने लगा था। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें