अक्कल आई : सूरत सिविल अस्पताल में कोरोना मरीजों को स्मार्टफोन ले जाने पर लगाई गई पाबंदी हटी!

महंगे फोन चोरी हो जाने का बताया बहाना, मरीजों के लिए आए टिफिन भी नहीं पहुंचाए गए

पिछले दिनो सूरत सिविल अस्पताल कैंपस में मरीजों को अस्पताल में स्मार्टफोन ले जाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। हालांकि इसके कुछ दिनों बाद कल अस्पताल द्वारा यह प्रतिबंध हटा लिया गया था। अस्पताल में कोरोना के मरीज लगातार बढ़ते जा रहे हैं। बढ़ते जा रहे मरीजों की संख्या के कारण उनकी शिकायतें भी दिन-प्रतिदिन बढ़ रही है। 
इन सभी शिकायतों का हल लाने के लिए सिविल अस्पताल के प्रशासन ने बुधवार को होस्पिटल में स्मार्टफोन ले जाने से प्रतिबंध लगा दिया था। हालांकि इसके चलते मरीजों और उनके परिवार जनों में नाराजगी देखी गई। अपने इस निर्णय का बचाव करते हुये सिविल प्रशासन ने बताया कि अस्पताल में फोन चोरी हो जाने की काफी घटना देखने मिलती है। जिसके कारण मरीजों को स्मार्टफोन नहीं, लेकिन सादा फोन लेकर मरीज और उनके परिचित लोगों को आने की इजाजत मिल रही है। लेकिन लोगों की नाराजगी को देखते हुये  सिविल प्रशासन को अपना फैसला बदलना पड़ा और शुक्रवार से मरीज फिर से स्मार्टफोन लेकर जाने की अनुमति फिर से दे दी है। 
उल्लेखनीय है कि बुधवार को कोविड-19 होस्पिटल में दाखिल मरीज़ों के लिए उनके परिचित घर का टिफिन लेकर गए थे, लेकिन टिफिन मरीजो तक नहीं पहुंचाया गया। टिफ़िन पड़ा  रहा ऐसा वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। लेकिन सिविल प्रशासन ने यह कहकर बात टाल दी कि कई मरीजों के वार्ड बदल दिए जाने के कारण नहीं मिल रहे थे। इसलिए टिफिन नहीं दिए गए इसके अलावा कई मरीजों के परिवारजनों ने देरी से भी टिफिन पहुंचाए थे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें