अहमदाबाद : सूदखोरों द्वारा प्रताड़ित किए जाने से युवक ने की आत्महत्या

(Photo : IANS)

न्याय की तलाश में परिजन शव सहित पहुंचे पुलिस स्टेशन

सूदखोरों पर अंकुश लगाने के लिए सरकार द्वारा सख्त कानून बनाए गए हैं, लेकिन लगता है सरकार का यह कानून कागजों पर ही रह गया है। आये दिन इन सूदखोरों के अत्याचार से परेशान होकर आत्महत्या करने या आत्महत्या का प्रयास करने की घटना सामने आती रहती है। ऐसे में अहमदाबाद में एक बार फिर इसी कारण एक युवक के आत्महत्या करने की घटना सामने आई है। फ़िलहाल पुलिस ने शिकायत दर्ज कर आगे की जांच शुरू कर दी है।
जानकारी के अनुसार, निकोल पुलिस थाना और उसके बाहर पड़ा हुआ शव एक अप्रत्याशित घटना की ओर इशारा कर रहा है। इस घटना में परिजन न्याय की मांग को लेकर युवक के शव को थाने ले गए। घटना की बात करें तो शहर के निकोल इलाके में रहने वाले भूपेंद्रभाई कमलिया ने सूदखोरों के प्रताड़ना के चलते फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। मृतक के परिवार का आरोप है कि पांच व्याजखोरो कालू रबारी, विक्रम शाह, भगा भाई रबारी, नितिन दरबार, राजू रबारी द्वारा भूपेन्द्र को प्रताड़ित किया गया है। पुलिस ने अपराध दर्ज कर लिया है और जांच कर रही है।
आपको बता दें कि भूपेंद्र ने आज सुबह आत्महत्या करने से पहले देर रात अपने परिवार को सूदखोरों के उत्पीड़न की जानकारी दी थी । आरोपियों में से एक ने इमारत के दस्तावेजों की एक फोटोकॉपी भी करा रखी है। साथ ही, अन्य आरोपितों ने दी गई पूंजी से अधिक ब्याज देने के बावजूद अधिक पैसे लेने के लालच में मृतक युवक को बार-बार धमकाया था। इसलिए युवक ने आत्महत्या कर ली। जिसके बाद परिजन इंसाफ की मांग को लेकर शव सहित थाने पहुंचे।
वहीं आरोपी की गिरफ्तारी के बाद ही शव लेने की जिद करने वाले परिजन ने आत्महत्या के लिए उकसाने की धारा के तहत अपराध दर्ज करने के बाद शव को स्वीकार कर लिया। वहीं पुलिस ने फरार आरोपियों और सूदखोरों के खिलाफ सबूत जुटाने के लिए जांच तेज कर दी है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें