अहमदाबाद : लेनदारों की पठानी उघरानी से परेशान हुआ युवक, पत्नी के साथ कर ली आत्महत्या

(Photo Credit : gujarati.abplive.com)

बिजनेस में नुकसान जाने के कारण लिए थे उधार, भाई को किए मैसेज के जरिये मिली सूदखोरों की पहचान

पिछले काफी समय से राज्य में आत्महत्या के कई मामले सामने आ रहे है। ऐसा ही एक और मामला अहमदाबाद से सामने आया है। अहमदाबाद के एक 33 वर्षीय युवक ने अपनी पत्नी के साथ आत्महत्या किए होने की जानकारी सामने आने से पूरे इलाके में हलचल मच गई थी। 24 दिसंबर के दिन दोनों ने केनाल में डूब कर अपनी जान दे दी थी।
खुद के आत्महत्या करने के पहले युवक ने अपने बड़े भाई को मैसेज कर के उसे अपनी इस परेशानी बताई थी। इन मैसेज की सहायता से हितेश की हत्या के आरोप में  सोला पुलिस द्वारा जगदीश देसाई, जला देसाई और जीतू वाघेला नाम के व्याजखोरों के सामने जांच कर कार्यवाही कर रहे है।
घटना की विस्तृत जानकारी के अनुसार, 24 दिसंबर को हितेश ने अपने भाई अल्पेश के फोन पर मैसेज किया कि वह दोनों आत्महत्या करने जा रहे है। उनके जाने के बाद उनके परिवार वालों को कोई नुकसान ना पहुंचाए और कोई उन्हें परेशान ना करे उसका ध्यान रखें। हितेश ने कहा, उन्होंने सभी को उनकी मूल रकम से भी अधिक व्याज दिया है। पर अब वह और अधिक व्याज नहीं भर सकते। इसलिए वह आत्महत्या कर रहे है।
मैसेज देखने के बाद बड़े भाई अल्पेश ने हितेश के घर के पास रहने वाले अपने जीजा विष्णुभाई को उनकी जांच करने भेजा था। हालांकि वह अपने घर तथा उनकी पत्नी दोनों के घर नहीं थे। हालांकि दो दिनों के बाद 26 तारीख को उनकी लाश नानी कुमाद कैनाल में से मिल आई थी। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, दो साल पहले हितेश को बिजनेस में नुकसान गया था। इसके चलते उन्होंने सिंधुभवन रोड पर स्थित जगदीशभाई कि ऑफिस में से 4 प्रतिशत व्याज पर लिए थे। हालांकि इसके बाद व्याजखोरों ने उनके पास से पठानी उघरानी शुरू कर दी थी। इसके चलते परेशान होकर उन्होंने यह अंतिम कदम उठाया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें