अहमदाबाद : पान के गल्ला की आड़ में एमडी ड्रग्स का काला धंधा, इंजेक्शन से नशा करने वाला गिरफ्तार

पुलिस गिरफ्त में आरोपी

एसओजी क्राइम ने आरोपियों के पास से 5 लाख 71 हजार रुपये की एमडी ड्रग्स जब्त की

अहमदाबाद शहर के सेटेलाइट क्षेत्र में विशेष अभियान दल ने मादक पदार्थ के काला कारोबार में संलिप्त दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है।  एसओजी क्राइम ने इन दोनों आरोपियों के पास से 5 लाख 71 हजार रुपये की एमडी ड्रग्स जब्त की है। पुलिस ने यह भी जानना चाहा कि गिरफ्तार दोनों आरोपी इन नशीले पदार्थों का धंधा कैसे चला रहे थे।

दोनों आरोपी ड्रग्स का सेवन करते थे और फिर धीरे-धीरे वे नशीले पदार्थों की तस्करी के धंधे में शामिल हो गए


पुलिस हिरासत में इन दोनों आरोपियों के आपराधिक इतिहास की बात करें तो 31 वर्षीय आरोपी पर्वत बाबूभाई झाला गोकुल आवास औड़ा के घर में रहता है और पान पार्लर की आड़ में ड्रग्स बेचता है।  जबकि 24 वर्षीय उशामा शाहिद अहमद बख्शी जुहापुरा की हरियाली सोसायटी में रहता हैं और नशीले पदार्थों का कारोबार करता हैं। ये दोनों आरोपी ड्रग्स का सेवन करते थे और फिर धीरे-धीरे वे नशीले पदार्थों की तस्करी के धंधे में शामिल हो गए। आरोपियों में से एक परबत झाला इंजेक्शन के जरिए इस ड्रग्स का सेवन करता था। उसके हाथ पर इंजेक्शन के निशान भी हैं।
एसओजी क्राइम ने दोनों आरोपियों के पास से 5 लाख 71 हजार रुपये की एमडी ड्रग्स समेत कुल 6 लाख 96 हजार रुपये का माल सामान जब्त किए हैं। जिसमें ऊशामा में बख्शी एमडी ड्रग्स समेत तरह-तरह की दवाएं लाकर परबत झाला को देता था। जबकि आरोपी पर्वत झाला सैटेलाइट के गोकुल आवास औडा स्थित अपने पान के गल्ले की आड़ में एमडी ड्रग्स का काला धंधा कर रहा था।

आरोपियों ने पुलिस से बचने के लिए एक विशेष तौर-तरीके का भी इस्तेमाल किया


एसओजी जांच के दौरान दोनों आरोपी पिछले एक साल से एमडी ड्रग्स सहित विभिन्न नशीले पदार्थों का निजी तौर पर कारोबार कर रहे थे। आरोपियों ने पुलिस से बचने के लिए एक विशेष तौर-तरीके का भी इस्तेमाल किया। उसने पान के गल्ले में आने वाले ग्राहकों और उसके परिचितों के अलावा किसी और को नशीला पदार्थ नहीं बेचा। लेकिन एसओजी क्राइम को दोनों आरोपियों की गतिविधियों का पता चला जो ड्रग्स का धंधा कर रहे थे और उन्होंने निगरानी की और दोनों आरोपियों को दबोच लिया। पुलिस को एमडी ड्रग्स के काले धंधे में अन्य आरोपियों के साथ परबत झाला और उषामा बख्शी के भी शामिल होने का शक है। इसी को ध्यान में रखते हुए एसओजी क्राइम पुलिस ने ड्रग कारोबार की जड़ तक पहुंचने के लिए जांच का तख्ता तैयार की है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें