अहमदाबाद : विवाहों का पंजीकरण प्रमाण पत्र की ट्रू कॉपी अब घर पर ऑनलाइन उपलब्ध, सरकार ने बदला नियम

प्रतिकारात्मक तस्वीर

डिजिटल गुजरात के तहत इस महत्वपूर्ण सार्वजनिक निर्णय से नागरिकों को संबंधित कार्यालय नही जाना पड़ेगा

विवाह के रजिस्ट्रार जनरल की सूची के अनुसार भारतीय ईसाई विवाह अधिनियम 1872 के तहत पंजीकृत विवाह पंजीकरण प्रमाण पत्र की सत्य प्रति गुजरात में ऑनलाइन उपलब्ध कराने के लिए राज्य सरकार द्वारा एक महत्वपूर्ण जनहित निर्णय लिया गया है। डिजिटल गुजरात के तहत इस महत्वपूर्ण सार्वजनिक निर्णय से नागरिकों को संबंधित कार्यालय में जाये बिना घर बैठे ऑनलाइन पेमेन्ट कर राज्य सरकार के राजस्व विभाग की वेबसाइट http://stampsregistration gujarat.gov.in या https://garvibeta.gujarat.gov.in पर उपलब्ध ऑनलाइन सर्विस में आवश्यक डेटा दर्ज करके, कोई भी ऑनलाइन उपलब्ध रिकॉर्ड के आधार पर कार्यालय में जमा किए गए विवाह प्रमाण पत्र की एक वास्तविक प्रति प्राप्त कर सकता है।  इसके साथ ही ऑफलाइन प्रक्रिया को अनिवार्य रूप से रोक दिया गया है। ऑनलाइन आवेदन के लिए दिशानिर्देश http://stampsregistration gujarat.gov.in वेबसाइट पर उपलब्ध हैं।  राज्य सरकार के इस महत्वपूर्ण जनोन्मुखी निर्णय से बड़ी संख्या में नागरिक लाभान्वित होंगे। 
प्रतिकारात्मक तस्वीर

इस निर्णय से नागरिकों के समय और धन की बचत होगी


उल्लेखनीय है कि गुजरात में भारतीय ईसाई विवाह अधिनियम 1872 के तहत पंजीकृत मूल विवाह प्रमाण पत्र पंजीकरण निरीक्षक, गांधीनगर के कार्यालय में जमा किया जाता है। इस अधिनियम के तहत, नागरिकों को विवाह पंजीकरण प्रमाण पत्र की एक सत्य प्रति प्राप्त करने के लिए पंजीकरण के मुख्य निरीक्षक, गांधीनगर के कार्यालय में व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होना पड़ता था। इस निर्णय से नागरिकों के समय और धन की बचत होगी और प्रमाण पत्र की सच्ची प्रति घर पर आसानी से उपलब्ध होगी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें