अहमदाबाद : इस बार की रथयात्रा पर फ़िलहाल ये है राज्य सरकार का रूख

कोरोना गाइडलाइंस के नियमों के तहत पूर्ण होगी भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा

भक्तों की आस्था के प्रतीक स्वरूप अहमदाबाद की प्रसिद्ध भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा को कोरोना गाइडलाइंस के तहत मंजूरी मिले ऐसे संकेत मिल रहे है। रथयात्रा पहले गुरुवार को साबरमती नदी के किनारे से भगवान जगन्नाथ की जलयात्रा के आयोजित की गई थी। जिसमें राज्य के उपमुकख्यामंत्री नितिन पटेल और गृहराज्यमंत्री प्रदीपसिंह जाडेजा उपस्थित रहे थे। जलयात्रा के दौरान डेप्युटी सीएम नितिन पटेल ने कहा, कोरोना गाइडलाइंस के नियमों के तहत ही रथयात्रा का आयोजन किए जाने का निर्णय लिया जाएगा। इसके अलावा प्रदीपसिंह जाडेजा ने भी 144वीं रथयात्रा का आयोजन कोविड गाइडलाइंस को ध्यान में रखकर ही किया जाएगा। 
रथयात्रा के पहले मंदिर के पुजारियों और ट्रस्टियों की उपस्थिती में जलयात्रा का आयोजन किया था। जिसमें कोरोना की सभी गाइडलाइंस का पालन किया गया था। मीडिया के साथ बातचीत करते हुये नितिन पटेल ने बताया कि भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा पूरे देश के लिए आस्था का प्रतिक है। ऐसे में सुरक्शित वातावरण में यात्रा पूर्ण हो यह राज्य सरकार की प्राथमिकता है। शांतिपूर्ण वातावरण में धार्मिक मान्यताओं के साथ इस यात्रा को पूरा करने के लिए राज्य सरकार पूरी तैयार है। 
बता दे की मंदिर के महंत दिलीपदासजी महाराज तथा ट्रस्टी महेंद्रभाई झा द्वारा विभिन्न सेवा प्रवृति शुरू की गई है। जिसके तहत राज्य की सबसे बड़ी गौशाला कार्यरत की गई है। मंदिर द्वारा निकाली गई जलयात्रा में संत, महंत तथा शहर के अन्य कई उद्यमी जुड़े थे। 


इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें