अहमदाबाद : कॉलेज गर्ल के हॉस्टल में आत्महत्या करने के 4 महीने बाद बड़ा खुलासा, जानें क्या है माजरा

वसो पुलिस स्टेशन की फाइल तस्वीर

युवक ने मृतक लड़की से पैसे की मांग की और पैसे नहीं देने पर अपने निजी संबंधों के फोटो व वीडियो वायरल करने की धमकी दी थी

खेड़ा जिले के वासो पंथक में एक कृषि महाविद्यालय में पढ़ने वाली 21 वर्षीय छात्रा ने 11 मई को छात्रावास में फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। इस प्रकरण में एक चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। आज पूरे मामले में मृतक बच्ची के पिता ने एक युवक के खिलाफ दुष्प्रेरणा का मामला दर्ज कराया है।  इस युवक ने मृतक लड़की से पैसे की मांग की और पैसे नहीं देने पर अपने निजी संबंधों के फोटो व वीडियो वायरल करने की धमकी दी। 

मृतक लड़की के सेल फोन और लैपटॉप दोनों को जब्त कर जांच के लिए एफएसएल भेज दिया

अरवल्ली जिले के बायड तालुका के एक गांव में रहने वाली एक 21 वर्षीय लड़की खेड़ा जिले के वसो पिज रोड पर कृषि विश्वविद्यालय में पढ़ रही थी। गत 11 मई की शाम को किसी कारणवश उसने अपने छात्रावास के कमरे में खिड़की के ऊपर दुपट्टे में फंदा लगाकर फांसी लगा ली। वसो पुलिस को घटना की सूचना मिलने के बाद, वसो पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची और सीआरपीसी 174 के तहत मामला दर्ज किया और आगे की जांच की। पुलिस ने लड़की ने आत्महत्या क्यों की इस दिशा में जांच के लिए मृतक लड़की के सेल फोन और लैपटॉप दोनों को जब्त कर जांच के लिए एफएसएल भेज दिया।

निजी फोटो वायरल करने की धमकी देकर मुझे ब्लैकमेल कर रहा था युवक


इस मृत युवती का सगा भाई भी इसी कॉलेज में पढ़ता था।  उसने कुछ दिन पहले अपने पिता को बताया कि उसकी बहन की आत्महत्या को लेकर पुलिस की एफएसएल रिपोर्ट आई है या नहीं? पुलिस से मामले की जांच करने को कहा गया है। दूसरी ओर, मृतक के भाई ने जांच की तो पता चला कि वीरेंद्र भरतकुमार चौधरी (खतौडो, तालुका वडनगर, जिला मेहसाणा निवासी) जो  बहन के अगले वर्ष में पढ़ रहा था, वह उसका खास दोस्त था। इन दोनों के बीच प्रेम संबंध भी थे। अक्सर ये दोनों लोग फोन पर बात करते थे। उसका भाई भी जानता था। इतना ही नहीं वीरेंद्र के काले करतूत के बारे में भी उसकी बहन ने अपने भाई को बताया था। जिसमें लड़की ने अपने भाई से कहा कि वीरेंद्र मुझसे 2500 रुपये मांग रहा है और नहीं देने पर निजी फोटो वायरल करने की धमकी देकर मुझे ब्लैकमेल कर रहा है। उसने अपने भाई से कहा कि आप इस बारे में घर में किसी को नहीं बताएंगे।

भाई को वीरेंद्र और इस लड़की के प्रेम संबंधों की सच्चाई का पता चल गया था

हालांकि, इसके बावजूद उन्होंने वीरेंद्र को उस वक्त 1500 रुपये दिए जाने का इंतजाम किया। लेकिन इसके बावजूद वीरेंद्र लगातार लड़की को प्रताड़ित कर रहा था और इन निजी फोटो और वीडियो को वायरल करने की धमकी देकर पैसे के लिए कर रहा था।  लड़की की इस स्थिति के बीच उसके भाई ने वीरेंद्र चौधरी को संदेश भेजा, सामने से जवाब मिलने पर लड़की के भाई ने अपनी पहचान की और कहा कि कुछ काम है, लड़की के भाई ने मना कर दिया और फोन काट दिया। जिससे उसके भाई को वीरेंद्र और इस लड़की के प्रेम संबंधों की सच्चाई का पता चल गया।

मेरे खाते में  पांच घंटे में 1000 रुपये नहीं आए तो मैं अपने रिश्ते के निजी वीडियो और फोटो वायरल कर दूंगा

इसके अलावा, जब लड़की ने आत्महत्या की, तो दो दिन पहले वीरेंद्र का उसके भाई के मोबाइल पर एक संदेश मिला था, "क्या आप अपनी बहन के बारे में कुछ जानते हैं, आपको अपनी बहन से पूछना चाहिए कि सीनियर चौधरी और तुलसी क्या हैं?" और आपको पहले अपनी बहन से इसके बारे में पूछना चाहिए। अगर तुम्हारी बहन तुम्हें कुछ नहीं बताती है, तो मैं तुम्हें सब कुछ बता दूंगा। अगर आपको अपनी बहन की नहीं पड़ी हो तो उसे रहने दें। क्या होगा यह देखने के लिए संदेश थे। वीरेंद्र ने मृतक लड़की को और पैसे लेने के लिए ब्लैकमेल किया और कहा कि अगर मेरे खाते में  पांच घंटे में 1000 रुपये नहीं आए तो मैं अपने रिश्ते के निजी वीडियो और फोटो वायरल कर दूंगा और सब कुछ मैसेज से बता दूंगा। जिससे मृत लड़की ने इस वीरेंद्र से कहा कि मैं आत्महत्या कर रहा हूं, वीरेंद्र के फोन में मैसेज था। इस वीरेंद्र ने अपने भाई को जब पता चला कि वीरेंद्र ने मृतक लड़की को मानसिक रूप से प्रताड़ित किया था और उसे आत्महत्या करने के लिए मजबूर किया था, इस बात की जानकारी जब मृतक युवती के भाई को हुई  तो उसने पूरी बात अपने पिता को बताई। आज लड़की के पिता ने उक्त वीरेंद्र भरतभाई चौधरी (निवासी खतौड़ा, तालुका वडनगर, जिला मेहसाणा) के खिलाफ वसो पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस ने इस युवक के खिलाफ आईपीसी 306 के तहत मामला दर्ज कर आगे की जांच शुरू कर दी है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें