अहमदाबाद : वटवा जीआईडीसी क्षेत्र में पोस्को की एक और घटना, 5 साल की बच्ची से दुष्कर्म

पुलिस गिरफ्त में आरोपी

युवक ने बच्ची को मोबाईल फोन खेलने के लिए देने की बात कहकर अपने घर बुलाया था

अहमदाबाद में महिलाओं के साथ-साथ युवतियां व छोटी बच्चियां भी सुरक्षित नहीं हैं, ऐेसी घटना पुलिस की रजिस्टर में दर्ज की गई है।  शहर के वटवा जीआईडीसी इलाके में एक पड़ोसी ने पांच साल की बच्ची के साथ कथित तौर पर दुष्कर्म किया है। 34 वर्षीय व्यक्ति ने लड़की को खेलने के लिए मोबाइल देने के लिए कह कर घर बुलाया और शारीरिक रूप से छेड़खानी करते लड़की की मां के देख लेने के बाद पूरा मामला थाने पहुंच गया। 
पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। वटवा जीआईडीसी पुलिस स्टेशन क्षेत्र में रहने वाले 28 वर्षीय व्यक्ति ने शिकायत दर्ज कराई थी। जिसमें बताया है कि उसकी पांच वर्षीय बेटी घर के पास खेल रही थी, तभी पड़ोस के एक युवक ने उसे मोबाईल फोन खेलने के लिए देने की बात कहकर अपने घर बुला लिया।  जिसके बाद नराधम आरोपी ने लड़की के साथ छेड़खानी करने लगा।  हालांकि, उस वक्त बच्ची की मां ने अपनी बेटी को घर के अंदर या आसपास नहीं देखा तो वह पड़ोस में गई, जहां उसके रोने की आवाज सुनी तो उसने दरवाजा खटखटाया तब आरोपी ने दरवाजा खोला। घर में से बेटी रोती हुई मां के पास आई और मां को सारी बात बताई।
गौरतलब है कि घटना के बाद बच्ची की शरीर में गुप्त भाग में सूजन होने से बच्ची की मां उसे इलाज के लिए अस्पताल ले गई और पूरे मामले की जानकारी अपने पति को दी।  आरोपी के खिलाफ वटवा जीआईडीसी पुलिस स्टेशन में पॉक्सो और बलात्कार की धारा के तहत मामला दर्ज किया गया था। हालांकि घटना के बाद आरोपी अपने घर से भाग गया था, लेकिन पुलिस ने आरोपी का पता लगाकर उसे गिरफ्तार कर लिया। युवती और आरोपी को मेडिकल जांच के लिए भेज दिया गया है।
वटवा जीआईडीसी पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया तो पता चला कि आरोपी घर में एकाकी जीवन व्यतीत करने के साथ-साथ छुटक मजदूरी का काम करता था। हालाँकि, क्या उसका कोई आपराधिक इतिहास है या उसने कभी इस लड़की या किसी अन्य लड़की के साथ ऐसा अपराध किया है? पुलिस ने इस दिशा में जांच शुरू कर दी है।

(यौन उत्पीड़न के मामलों में सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निर्देशों के अनुरूप पीड़िता की निजता का सम्मान करते हुए उनकी पहचान उजागर नहीं की गई है।)

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें