अहमदाबाद : शंकर चौधरी को लेकर अमित शाह का बड़ा बयान

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह

केन्द्रीय गृहमंत्री ने कहा 'आप शंकर चौधरी को विधायक बनाएं, हम उन्हें बड़ा पद देंगे'

 केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुजरात में दूसरे चरण के चुनाव के लिए खंभात के बाद बनासकांठा के थराद में प्रचार किया। थराद में अमित शाह ने सभा को संबोधित करते हुए शंकर चौधरी को वोट देकर जिताने की अपील की। अमित शाह ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि मैं यहां शंकर चौधरी को जीताने आया हूं। आप शंकर चौधरी को विधायक बनाएं, भाजपा पार्टी शंकर चौधरी को बड़ा आदमी बनाने का काम करेगी। उन्होंने लोगों से थराद और वाव दोनों सीटों पर भाजपा का कमल खिलाने की भी अपील की।

अमित शाह की जनता से अपील- शंकर चौधरी को विधायक बनाएं, हम उन्हें बड़ी जगह देंगे


अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस ने बनासकांठा को तस्करी का अड्डा बना दिया है। हालांकि, बीजेपी के आने के बाद स्थिति बदल गई है। अमित शाह ने कहा तुम लोग शंकर चौधरी को विधायक बनाएं हम उन्हें बड़ी जगह देंगे। इसके साथ ही अमित शाह ने शंकर चौधरी को सरकार में जगह दिए जाने के भी संकेत दिए। विकास और सुरक्षा को लेकर अमित शाह ने कांग्रेस पर गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा, विकास और कांग्रेस का तालमेल नही है। शाह ने कहा कि गुजरात का विरोध करने वाले गुजरातियों का वोट मांगने आए हैं, वोट देने से पहले कांग्रेसियों को जान लें। क्योंकि विकास और कांग्रेस दोनों का बनता ही नहीं है। सुरक्षा और कांग्रेस एक दूसरे के विपरीत हैं।

नडाबेट का विकास प्रधानमंत्री ने किया 


बनासकांठा के सीमावर्ती इलाके में कांग्रेस और बीजेपी दोनों पार्टियां नजर आ रही हैं। मैंने 80 और 90 के दशक में एक खराब स्कूटर से बनासकांठा की यात्रा की है। उस समय यहां की सड़कें बहुत खराब थीं, आज सड़कों पर तेज रफ्तार से गाड़ियां जाती हैं। यहां से अहमदाबाद और पालनपुर का रास्ता अच्छा बन गया है। अमित शाह ने कहा, मैं अभी नडाबेट देखकर आया हूं। मैं उस जगह को देखकर हैरान रह गया। मैंने पहले भी नडेश्वरी माता के दर्शन किए थे। लेकिन सीमा पर प्रधानमंत्री मोदी द्वारा जो व्यवस्था की गई है उससे नडाबेट पर पर्यटन बढ़ेगा। रोजगार भी बढ़ेगा।

आज बनासकांठा का बेटा यहां पढ़कर बन सकता है डॉक्टर


80 और 90 के दशक में बनासकांठा में आइसक्रीम की दुकानें तक नजर नहीं आती थीं। आज दवा की दुकानें भी हो गई हैं और बिजली भी आ गई है। लड़के भी देर रात तक पढ़कर मेडिकल और इंजीनियरिंग की परीक्षा दे रहे हैं। अब यहां के युवक-युवतियों को उच्च शिक्षा के दूर नहीं जाना होगा। बनास डेयरी ने यहां कॉलेज बनाया है। अगर बनासकांठा का कोई लड़का प्रवेश करता है और अच्छे अंक लाता है तो वह यही डॉक्टर बन जाएगा।

अंबाजी में बने 52 शक्तिपीठ 


कांग्रेस के समय अंबाजी मंदिर की स्थिति कैसी थी? लेकिन आज अम्बाजी मंदिर सोने की चमक देखने लायक है। यहां 52 शक्तिपीठ बनाए गए हैं। जब देश भर से तीर्थयात्री पैदल आते हैं तो भाजपा ने तीर्थयात्रियों के लिए भोजन की व्यवस्था की है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें