निशानेबाजी में देश का प्रतिनिधित्व करने वाली 17 वर्षीय महिला निशानेबाज ने की आत्महत्या

प्रतिकात्मक तस्वीर

अपने ही पिस्टल से खुद को मारी गोली, अपने हालिया प्रदर्शन से थी नाखुश

भारत की 17 साल की अंतरराष्ट्रीय निशानेबाज खुश सिरत कौर संधू ने पंजाब के फरीदकोट में अपने घर पर ही खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली।
जानकारी के अनुसार खुश सिरत कौर संधू ने 9 दिसंबर की सुबह खुद को गोली मार ली। राष्ट्रीय स्तर पर कई पदक जीत चुकी संधू के आत्महत्या के पीछे उनके हालिया लचर प्रदर्शन को जिम्मेदार बताया जा रहा है। मामले में फरीदकोट सिटी पुलिस के एसएचओ हरिंदर सिंह ने बताया, "हमें गुरुवार सुबह कंट्रोल रूम से फोन आया कि एक लड़की ने कथित तौर पर खुद को गोली मार ली है, जिसका घर नंबर 4, हरिंदर नगर, फरीदकोट में है। वहां जाने पर घटनास्थल पर हमें 17 वर्षीय खुश सिरत कौर संधू का शव मिला। लड़की ने खुद को अपनी ही पिस्टल से गोली मार ली।
हालांकि पुलिस को इस घटना में अब तक कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है, लेकिन उसके परिवार ने पुलिस को बताया कि सीरत कौर दिल्ली में हाल ही में हुई राष्ट्रीय चैंपियनशिप में अपने प्रदर्शन से खुश नहीं थी।
बता दें कि फरीदकोट सिटी पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी गई है और खुश सिरत कौर संधू का शव उनके परिवार को सौंप दिया गया है।
गौरतलब है कि खुश सिरत कौर संधू ने अपने करियर की शुरुआत एक तैराक के रूप में की थी, लेकिन 4 साल पहले वह निशानेबाजी में शामिल हो गईं और राष्ट्रीय स्तर पर कई पदक जीते। उनके कोच सुखराज कौर ने कहा कि वह एक बहुत ही प्रतिभाशाली खिलाड़ी थीं और उन्हें इस तरह खोना दुर्भाग्यपूर्ण है। हालांकि इस मामले में सबसे चौंकाने वाली बात यह है कि पिछले 4 महीनों में शूटिंग कॉरिडोर में आत्महत्या की यह दूसरी घटना है। इस साल सितंबर में एक अन्य खिलाड़ी नमनवीर सिंह बराड़ ने मोहाली में अपने घर में खुद को गोली मार ली थी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें