क्रिकेट : 'मैं नहीं चाहती देश मुझे रोता हुए देखे..!' विश्व कप से बाहर होने पर भावुक हुई कप्तान कौर, बताया अपना दुर्भाग्य

क्रिकेट : 'मैं नहीं चाहती देश मुझे रोता हुए देखे..!'  विश्व कप से बाहर होने पर भावुक हुई कप्तान कौर, बताया अपना दुर्भाग्य

ऑस्ट्रेलिया के सामने सेमीफाइनल हराने के साथ ही खत्म हुआ भारत का सफर, एक बार फिर टूटा विश्व कप जीतने का सपना

दक्षिण अफ्रीका में खेले जा रहे महिला टी20 विश्व कप में कल भारत का सफर सेमीफाइनल में खत्म हो गया। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आईसीसी महिला टी20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल मैच में भारतीय टीम को 5 रन से हार का सामना करना पड़ा था। इस मैच में हार के बाद मैच के बाद की प्रेजेंटेशन में भारतीय कप्तान हरमनप्रीत कौर चश्मा लगाकर पहुंची। पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन के दौरान वह काफी इमोशनल नजर आईं। जब प्रजेंटेटर उनसे बात कर रहे थे तो भारतीय कप्तान ने कहा कि वह नहीं चाहती कि उनका देश उन्हें रोता हुआ देखे इस वजह से वह यहां चश्मा पहनकर आईं हैं।

मैं नहीं चाहती, देश मुझे रोता हुए देखे- भारतीय कप्तान

हरमनप्रीत कौर ने मैच के बाद कहा, 'मैं नहीं चाहती कि मेरा देश मुझे रोता हुआ देखे, इसलिए मैं ये चश्मा पहनकर आई हूं, मैं वादा करती हूं कि हम अपने खेल में सुधार करेंगे और देश को फिर ऐसे निराश होने का मौका नहीं देंगे।'

हमारा हारना हमारी बदकिस्मती : हरमनप्रीत

आपको बता दें कि आगे हरमनप्रीत ने कहा भारतीय टीम के कप्तान के रूप में, मैं सबसे दुर्भाग्यपूर्ण महसूस करती हूं। शुरुआती दो विकेट गंवाने के बाद हमें पता था कि हमारा बल्लेबाजी क्रम अच्छा है। मुझे इसका श्रेय जेमिमाह को देना होगा क्योंकि उन्होंने ही मैच में मोमेंटम दिया था। इससे ज्यादा दुर्भाग्य की बात नहीं हो सकती कि जब मैं और जेमी (जेमिमा रॉड्रिग्स) बल्लेबाजी कर रहे थे और उसके बाद हार जाना। आज हमें इसकी उम्मीद नहीं थी। जिस तरह से मैं रनआउट हुई, उससे ज्यादा दुर्भाग्य की बात नहीं हो सकती। प्रयास करना अधिक महत्वपूर्ण था। हमने आखिरी गेंद तक लड़ने पर चर्चा की। नतीजा हमारे पक्ष में नहीं रहा, लेकिन हम इस टूर्नामेंट में जिस तरह से खेले उससे मैं खुश हूं।'

हार का कारण भारत का खराब क्षेत्ररक्षण

हरमनप्रीत ने माना कि टीम की खराब फील्डिंग उस पर भारी पड़ गई। भारत ने दो आसान कैच और कई मिस फील्ड किये जिसके सहारे टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए ऑस्ट्रेलिया ने चार विकेट के नुकसान पर 172 रन बनाए। भारतीय टीम की खराब फील्डिंग चर्चा का विषय बनी रही। जवाब में भारतीय टीम ने 20 ओवर में 8 विकेट खोकर 167 रन बनाए। ऑस्ट्रेलिया के लिए बेथ मूने ने अर्धशतक और मेग लेनिंग की 49 रनों की पारी खेली। आखिरी 10 ओवर में ऑस्ट्रेलिया ने 100 से भी ज्यादा रन बटोरे। वहीं भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही। स्मृति मंधाना, शेफाली वर्मा और यस्तिका भाटिया जल्दी आउट हो गई। इसके बाद जेमिमा रोड्रिग्स और हरमनप्रीत कौर ने तूफानी पारी खेल जरूर टीम को जीत दिलाने की कोशिश की पर इन दोनों के वापस लौटते ही ऑस्ट्रेलिया ने मैच पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया। जेमिमा 24 गेंदों पर 43 और हरमनप्रीत कौर 34 गेंदों पर 52 रन बनाकर आउट हुई। भारत निर्धारित 20 ओवर में 167 ही रन बना पाया और टीम इंडिया 5 रनों से यह मैच हारकर टूर्नामेंट से बाहर हुई।

Related Posts