क्राइम स्टोरी : तड़के भैसों को चारा डाल रहे शख्स को गोलियों से भून दिया गया, हमलावरों ने उसकी बेटी को भी नहीं छोड़ा!‍

क्राइम स्टोरी : तड़के भैसों को चारा डाल रहे शख्स को गोलियों से भून दिया गया, हमलावरों ने उसकी बेटी को भी नहीं छोड़ा!‍

हरियाणा के रोहतक में डबल मर्डर से सनसनी

हरियाणा के रोहतक शहर के पास बोहर गांव में बुधवार सुबह करीब छह बजे अज्ञात हमलावरों ने 50 वर्षीय सुरेंद्र और उनकी 13 वर्षीय बेटी निकिता की हत्या कर दी। घटना में वृद्धा बाल-बाल बच गई। सुरेंद्र का पत्नी से तलाक का मामला चल रहा है। पुलिस घटना को पारिवारिक विवाद और पुरानी रंजिश से जोड़कर जांच कर रही है।

पुलिस के मुताबिक सुरेंद्र परिवार के साथ रह रहा था। इसके साथ ही वह खेतीबाड़ी का काम भी करता था। मिली जानकारी के मुताबिक वह सुबह 6 बजे उठकर भैंसों को चारा डाल रहा था। तभी घर में घूसकर उसे तीन गोलियां मारी गईं और वह मौके पर मर गया।

उधर, सुरेंद्र की बेटी अपने कमरे में सो रही थी। हमलावरों ने बेटी को भी गोली मारी। घर में निकिता की बूढ़ी दादी हैं जिन्हें कम सुनाई देता है। उन्हें कुछ सुनाई नहीं दिया। गोलियों की आवाज सुनकर पड़ोसी वहां पहुंचे। हमलावर मौके से फरार हो गए थे। सूचना मिलने पर अर्बन एस्टेट थाने से पुलिस व एफएसएल विशेषज्ञ डॉ. सरोज दहिया घटना स्थल पर पहुंचे। शवों को कब्जे में लेने के बाद जांच की जा रही है।

घटना के पीछे कोई पुरानी दुश्मनी या पारिवारिक विवाद भी हो सकता है इसलिये कि सुरेंद्र का पत्नी से तलाक का मामला चल रहा है।