अहमदाबाद : गुजरात सरकार ने मतदान के लिए 1 और 5 दिसंबर को अवकाश घोषित किया

सरकार ने ज्यादा से ज्य़ादा वोटिंग हो इसके लिए फैसला लिया है

गुजरात सरकार ने मतदान के लिए 1 और 5 दिसंबर को सार्वजनिक अवकाश घोषित किया है। जिसमें 1 दिसंबर को पहले चरण के मतदान के लिए 19 जिलों में अवकाश घोषित; पांच दिसंबर को दूसरे चरण के मतदान के लिए 14 जिलों में अवकाश घोषित किया गया है। सरकार ने ज्यादा वोटिंग के लिए फैसला लिया है। गुजरात विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर राज्य के चुनाव प्रशासन द्वारा  तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। प्रदेश में आगामी 1 और 5 दिसंबर 2022 को होने वाले मतदान के संदर्भ में जानकारी देते हुए गुजरात के मुख्य निर्वाचन अधिकारी पी. भारती ने बताया कि राज्य की 182 सीटों पर होने वाले मतदान के लिए मतदान केंद्र, मतदाता सूची, ईवीएम-वीवीपेट और अन्य सहायक सुविधाएं सुनिश्चित की गई हैं। मतदाता सूची पुनरीक्षण अभियान के बाद दोनों चरणों में कुल 4,91,35,400 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। इसमें 18 से 29 वर्ष के आयु वर्ग के 1,15,10,015 युवा मतदाता शामिल हैं।

दोनों चरणों में, राज्य में  51,839 मतदान केंद्र  स्थापित किए गए हैं,

दोनों चरणों में, राज्य में  51,839 मतदान केंद्र  स्थापित किए गए हैं, ताकि मतदाता आसानी से घर के पास किसी स्थान पर अपना वोट डाल सकें। गुजरात में सर्वाधिक मतदान केंद्रों वाले पांच जिलों में अहमदाबाद में 5610, सूरत में 4637, बनासकांठा में 2613, वडोदरा में 2590 और राजकोट में 2264 मतदान केंद्र हैं। सबसे कम मतदान केंद्रों वाले पांच जिलों में डांग में 335, पोरबंदर में 494, तापी में 605, बोटाद में 614 और नर्मदा में 624 शामिल हैं।
राज्य के कुल 4,91,35,400 मतदाताओं में से 2,37,74,146 महिला मतदाता हैं। गुजरात विधानसभा चुनाव में कुल 4,91,35,400 मतदाताओं में से 2,37,74,146 महिला मतदाता, 2,53,59,863 पुरुष मतदाता और 1391 तृतीय लिंग (थर्ड जेंडर) मतदाता शामिल हैं। गुजरात में कुल 1391 में से सबसे अधिक 226 थर्ड जेंडर वडोदरा जिले में दर्ज किए गए हैं।
Tags: 0

Related Posts