अहमदाबाद : वर्ष 2026 में चलेगी पहली बुलेट ट्रेन, केंद्रीय रेल मंत्री ने की घोषणा

अहमदाबाद : वर्ष 2026 में चलेगी पहली बुलेट ट्रेन, केंद्रीय रेल मंत्री ने की घोषणा

युवाओं को रेलवे में बदलाव और भविष्य में आने वाले बदलावों की जानकारी दी

केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव दो दिनों के लिए गुजरात के दौरे पर हैं। वे शुक्रवार को अहमदाबाद स्थित गुजरात विश्वविद्यालय में यूथ बोर्ड के कार्यक्रम में मौजूद रहे और युवाओं से बातचीत की। उन्होंने युवाओं को रेलवे में बदलाव और भविष्य में आने वाले बदलावों की जानकारी दी। केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा कि जब देश में रोजाना ढाई करोड़ लोग यात्रा करते हैं तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में विश्व स्तरीय रेलवे स्टेशन बनाने की बात कही है। देश में 199 विश्व स्तरीय रेलवे स्टेशन बनेंगे। 134 मास्टर प्लान तैयार किए जा रहे हैं। 65 डिजाइनों को मंजूरी दी गई है। 47 स्टेशनों के लिए टेंडर जारी कर दिए गए हैं और 34 पर काम चल रहा है। रेलवे स्टेशन को अगले 50 साल को ध्यान में रखकर डिजाइन किया गया है।

अहमदाबाद कालूपुर रेलवे स्टेशन का कायापलट होगा और विश्व स्तरीय रेलवे स्टेशन बनेगा


 अहमदाबाद स्टेशन के नीचे ट्रैक, बाद में पिलर, रूफ और रोड कनेक्टिविटी होगी। बाद में 3 मंजिला रूफ और रूफटॉप पूरी तरह से सोलर होगा। रेलवे स्टेशन के डिजाइन को अंतिम रूप दे दिया गया है। 12 दिन पहले पीएम ने कैबिनेट में दी मंजूरी। टेंडर आज या दो से तीन दिन में जारी कर दिया जाएगा। वंदे भारत ट्रेन का डिजाइन तैयार कर लिया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी वंदे भारत 3 बनाने को कहा है। वंदे भारत 3 ट्रेनें वजन में हल्की होंगी और 220 की रफ्तार से चलेंगी। मौजूदा वंदे भारत ट्रेन 180 की रफ्तार से चलती है। 

बुलेट ट्रेन का काम बुलेट तेज गति से चल रहा है


अगली ट्रेन कवच सिस्टम से बनेगी। कवच सिस्टम का मतलब है कि जब दो ट्रेनें एक दूसरे से ट्रैक पर मिलती हैं तो कवच ट्रेन अपने आप 380 मीटर की दूरी पर रुक जाती है। जिसे डेमो कर दिया गया है। बुलेट ट्रेन का काम बुलेट स्पीड से चल रहा है और 92 पिलर तैयार कर लिए गए हैं। साथ ही बुलेट ट्रेन स्टेशन बनाने का काम भी चल रहा है। अहमदाबाद की साबरमती मल्टी मॉडल ट्रांसपोर्ट बिल्डिंग का भी काम चल रहा है। देश में पहली बुलेट ट्रेन 2026 में चलेगी।
Tags: 0

Related Posts