जानें, इस देश की मुख्य राजनीतिक पार्टी को क्यों करवानी पड़ रही है लड़कों की शादी!

जानें, इस देश की मुख्य राजनीतिक पार्टी को क्यों करवानी पड़ रही है लड़कों की शादी!

चीन में लिंगानुपात असंतुलन के कारण लड़को को शादी के लिए लड़की ही नहीं मिल रही

वर्तमान समय में चीन दुनिया का सबसे जनसंख्या वाला देश है। फिलहाल चीन ने देश की जनसंख्या पर नियंत्रण रखने के लिए अपने देश में 'वन चाइल्ड पॉलिसी' लागू कर रखी है। इस पॉलिसी के कारण चीन में लड़कों और लड़कियों के बीच संख्या का संतुलन बिगड़ गया है। इस विकट स्थिति में चीन की कम्युनिस्ट पार्टी को इन युवाओं की शादी करवानी पड़ रही है। इतना ही नहीं लड़कियों की भारी कमी होने के कारण लड़के पैसे देकर दुल्हन खरीद रहे हैं। 
आपको बता दें कि चीन में लिंगानुपात असंतुलन के कारण लड़को को शादी के लिए लड़की ही नहीं मिल रही है। ऐसे में लड़के कम्युनिस्ट पार्टी के पास जा कर शाखा और स्थानीय अधिकारी के पास पहुंच रहे हैं। इसी कारण पार्टी के कार्यक्रम में भाग लेने वालों की संख्या बढ़ गई है। जबकि अधिकारियों का कहना है कि मैचमेकिंग के कई साइट्स होने के बाद भी यके लड़के कॉल करके उन्हें परेशान करते हैं।
आपको बता दें कि एक रिपोर्ट के अनुसार चीन में विवाह दर में गिरावट आई है। सांख्यिकी ब्यूरो के मुताबिक 2020 में सिर्फ 8।14 मिलियन जोड़ो ने शादी के लिए पंजीकरण करवाया है। चीन में जन्म दर पिछले साल प्रति 1000 लड़कों पर 752 तक गिर गई है। अन्य एक रिपोर्ट के अनुसार वर्तमान समय में चीन में करीब तीन करोड़ अविवाहित पुरुष है। दुनिया में सबसे ज्यादा आबादी वाले चीन में तीन करोड़ युवक शादी के लिए घूम रहे है लेकिन दुल्हन की कमी के चलते वे अविवाहित ही हैं। साउथ चायना मॉर्निंग पोस्ट में छपी खबर के मुताबिक, भले ही सरकार लगातार लड़कियों की संख्या में मामूली वृद्धि का सुझाव दे रही है पर चीन में महिला और पुरुषों के बीच का लिंग अनुपात बहुत जल्द हल होने के आसार नहीं हैं।
Tags: China

Related Posts