चैत्र नवरात्रि पर जब हर ओर माताजी की आराधना हो रही थी, एक पिशाची पुत्र ने जानिए मां के साथ क्या घिनौना काम किया!

शराब के नशे में माँ-बाप को पिटता था बेटा, खाना बनाने की बात पर कर दी माँ की हत्या

एक तरफ चैत्र नवरात्रि के दौरान जहां हर तरफ मां की पूजा चल रही है, वहीं एक बेटे ने अपनी मां पर जानलेवा हमला कर उसकी जीभ कटकर उसे घायल कर दिया। गंभीर रूप से घायल माँ की इलाज के दौरान मौत हो गई। घटना बुंदेलखंड के महोबनी की है। इस घटना के बाद लोग सहम गए। घटना की गूंज आसपास के क्षेत्र व आसपास के गांवों में फैल गई। पुलिस ने इस संबंध में कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस ने आरोपी बेटे को गिरफ्तार कर लिया है।
रिश्ते की सीमाएं तोड़ने वाली घटना उस वक्त हुई जब नवरात्रि में लोग मां के नौ रूपों की पूजा में जुटे हुए थे। महोबा में यह मामला श्रीनगर ठाणे क्षेत्र के ग्राम बसौरा का है। इधर रेनारी चंद्रबली और उनकी पत्नी रामप्यारी अपने बेटे चंद्रशेखर की हरकतों से परेशान हैं। वह अक्सर शराब के नशे में अपने माता-पिता के साथ लड़ता रहता है।
घटना उस समय हुई जब पिछले दिन उसका अपनी मां के साथ विवाद हुआ था। जिसके बाद वह गंभीर रूप से घायल हो गया। वह इतनी घायल हो गई थी कि बिस्तर से उठ भी नहीं पा रही थी। इस पर भी बुधवार को निर्दयी आरोपी बेटे चंद्रशेखर को दया नहीं लगी और उसने माँ से खाना बनाने को कहा।जब घायल मां ने जब काम करने में असमर्थता दिखाई तो वह भड़क उठा। इसके बाद क्रोधित कलयुगी पुत्र ने अपनी मां को फिर से पीटना शुरू कर दिया। आरोपी ने माँ का गला घोंटना शुरू कर दिया और उसकी जीभ उसके मुँह से निकालकर काट दी, जिससे वह घायल हो गई। जब पिता बामुशकिल से पुत्र को दूर कर पता है तो वह पिता को भी पीटने लगता है। बड़ी मुश्किल से महिला को उसका पति इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गया। लेकिन हालत गंभीर होने पर उसे जिला अस्पताल लाया गया।
अस्पताल पहुंचने पर महिला की हालत गंभीर थी और डॉक्टर ने उसे तुरंत झांसी मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया। जब उसका परिवार उसे ले जा रहा था तब उसकी मौत हो गई। घायल मां की मौत की खबर मिलते ही परिवार ही नहीं पूरे गांव में मातम छा गया।
Tags: Murder

Related Posts