पंजाब : कृषि कानूनों से गुस्साए किसानों ने भाजपा विधायक के कपड़े फाड़े

पंजाब : कृषि कानूनों से गुस्साए किसानों ने भाजपा विधायक के कपड़े फाड़े

पंजाब के मलौत शहर के अबोहर से भाजपा विधायक अरुण नारंग के समर्थकों ने कहा कि विधायक पर कुछ लोगों ने हमला किया, जिससे वह घायल हो गए, उन पर काली स्याही भी फेंकी

चंडीगढ़, 27 मार्च (आईएएनएस)| पिछले साल सितंबर में संसद द्वारा पारित तीन केंद्रीय कृषि कानूनों से नाराज प्रदर्शनकारी किसानों के एक समूह ने शनिवार को पंजाब के मलौत शहर के अबोहर से भाजपा विधायक अरुण नारंग के साथ धक्का-मुक्की की और कथित तौर पर उनके कपड़े फाड़ दिए। नारंग के समर्थकों ने कहा कि विधायक पर कुछ लोगों ने हमला किया, जिससे वह घायल हो गए। उनके कपड़े कथित तौर पर प्रदर्शनकारियों ने फाड़ दिए, उन पर काली स्याही भी फेंकी। हालात को देखते हुए भाजपा नेता तुरंत वहां से चले गए। उन्होंने आरोप लगाया कि इस घटना के पीछे राज्य की कांग्रेस सरकार का हाथ है।
मीडिया को संबोधित करने पहुंचे थे विधायक
भाजपा कार्यालय में मीडिया को संबोधित करने के लिए नारंग जैसे ही मुक्तसर जिले के मलोट पहुंचे तो हंगामा शुरू हो गया। प्रदर्शनकारी वहां पहले से ही जुटे हुए थे। उन्होंने नारंग से कहा कि वे केंद्र द्वारा पारित कृषि कानून किसानों के खिलाफ हैं। प्रदर्शनकारियों ने विधायक को कार्यक्रम स्थल तक नहीं पहुंचने दिया और उनके वाहन पर काला रंग पोत दिया।
वीडियो वायरल
विधायक के साथ अभद्रता का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। इसमें पुलिस को विधायक की सुरक्षा सुनिश्चित करने और उन्हें बचाने की कोशिश करते हुए देखा जा सकता है। हाथापाई में एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी को भी चोटें आईं। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष अश्विनी शर्मा सहित पार्टी के नेताओं को केंद्र के तीन कृषि कानूनों का समर्थन करने के कारण पिछले साल अक्टूबर से ही किसानों के गुस्से का सामना करना पड़ रहा है। 

Related Posts