सूरत : स्मार्ट सिटी समिट में दिखेगी गुजराती संस्कृति की झलक, गांव के चबूतरे और महोल्लों की थीम पर होगा पैवेलियन

सूरत : स्मार्ट सिटी समिट में दिखेगी गुजराती संस्कृति की झलक, गांव के चबूतरे और महोल्लों की थीम पर होगा पैवेलियन

समित में इलेक्ट्रिक वाहनों को दिया जाएगा बढ़ावा, विभिन्न पाँच मुद्दों को किया जाएगा शामिल

आने वाली 18 से 20 अप्रैल के दौरान सूरत के सरसाना सेंटर में में तीन दिन के स्मार्ट सिटी समिट का आयोजन किया गया है। इस नेशनल इवेंट के लिए एसएमसी द्वारा कड़ी तैयारियां की जा रही है। 100 शहरों के 700 से भी अधिक प्रतिनिधि सूरत में आने वाले है। ऐसे में सभी के सामने सूरत की छबि बिलकुल भी धूमिल ना हो इसके सारे इंतजाम किए जा रहे है। तीन सालों से स्मार्ट सिटी में पहला स्थान हासिल करने वाला सूरत अपनी स्मार्टनेस बताने के लिए अधिक से अधिक तकनीक का इस्तेमाल करे ऐसी आशा रखी जा रही है। 
स्मार्ट समिट में विभिन्न पेवेलियन बनाए जा रहे है। जिसमें खास गुजराती संस्कृति की पहचान दिखाने के लिए गुजरात के गांवों में दिखाई देते है ऐसे चौराहे और सड़कें बनाई जाएगी। इन स्थानों पर चर्चा-विचारणा किया जा सके ऐसा भी आयोजन किया जाएगा। महानगरपालिका द्वारा इस स्मार्ट सिटी समिट में एक खास रोबोट भी इस्तेमाल किया जाएगा। जो पूरे इवेंट में घूमते हुये लोगों को कोरोना के बारे में जानकारी देगा।
शिखर सम्मेलन में कुल पांच मुद्दों को शामिल किया जाएगा। इनमें डिजिटल गवर्नेंस, सार्वजनिक स्थानों की री-इमेजिंग, इनोवेशन, स्मार्ट फाइनेंस (पीपीपी) के साथ-साथ क्लाइमेट स्मार्ट सिटीजन शामिल हैं। यह स्मार्ट सिटी समिट सबसे अनोखा और इनोवेटिव होगा। शिखर सम्मेलन अत्याधुनिक सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) के साथ-साथ आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) का पूर्ण उपयोग करेगा। रोबोट सेंसर को बंद कर देगा और लोगों को घटना के बारे में जानकारी देगा। इस आयोजन के लिए विशेष रूप से मनपा द्वारा विकसित ऐप के माध्यम से लोग किसी भी पेवेलियन में आसानी से भाग ले सकते हैं।
समिट में इलेक्ट्रिक वाहनों को भी बढ़ावा दिया जाएगा। शिखर सम्मेलन में कुल 49 ईवी बसों और 5 ईवी कारों और ई-बाइक के साथ एक सार्वजनिक साइकिल साझाकरण प्रणाली का उपयोग किया जाएगा। शिखर सम्मेलन में नगर निगम की ओर से साइकिलें भी लगाई जाएंगी। ताकि लोग इसका इस्तेमाल यात्रा के लिए भी कर सकें। 

Tags: Gujarat

Related Posts