अमेरिका में युवा पुरुषों के लिए यह डरावना समय : ट्रंप


(Xinhua/Ting Shen/IANS)

वाशिंगटन। अमेरिका की शीर्ष अदालत के न्यायाधीश पद के लिए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा नामित ब्रेट कैवनॉ को अपना समर्थन दोहराते हुए राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि अमेरिका में युवा पुरुषों के लिए यह ‘कठिन’ और ‘डरावना’ समय है।

कैवेनॉ की न्यायाधीश पद दावेदारी बेहद विवादों में घिरी हुई है। उन पर यौन दुर्व्यवहार के आरोप लगे हैं।

व्हाइट हाउस में मंगलवार को संवाददाताओं से बात करते हुए ट्रंप ने कहा, “अपने पूरे जीवन में मैंने यही सुना कि आप दोषी साबित होने तक निर्दोष होते हैं लेकिन अभी हाल यह है कि आप निर्दोष साबित होने तक दोषी हैं। यह एक बहुत, बहुत कठिन मानक है।”

उन्होंने कहा, “अमेरिका में युवा पुरुषों के लिए यह बहुत डरावना समय है, जिसमें आप किसी ऐसी किसी चीज के भी दोषी हो सकते हैं जिसके लिए शायद आप दोषी न हों।”

कई महिलाओं द्वारा किए गए यौन दुर्व्यवहार के दावों की फेडरल ब्यूरो ऑफ इंवेस्टिगेशन (एफबीआई) की जांच के कारण जस्टिस कैवेनॉ (53) की शीर्ष अदालत के न्यायधीश के रूप में पुष्टि में विलंब हो रहा है। कैवनॉ ने अपने ऊपर लगे आरोपों को गलत बताया है।

‘बीबीसी’ की रिपोर्ट के अनुसार, ट्रंप ने कहा कि उनका मानना था कि सीनेट कैवनॉ के नाम को मंजूरी दे देगी।

इनकी नियुक्ति से आने वाले कई वर्षों तक अमेरिका की शीर्ष अदालत का झुकाव कंजरवेटिव रुझान की तरफ रहने का अनुमान लगाया जा रहा है।

मिसिसिपी के साउथावेन में मंगलवार को एक रैली में ट्रंप ने प्रोफेसर क्रिस्टीन ब्लैसी फोर्ड का नाम लिए बिना उनपर पर तंज कसा।

क्रिस्टीन ने कहा है कि जब वे दोनों किशोर थे तो कैवनॉ  ने उनका यौन उत्पीड़न किया था।

ट्रंप की बात पर रैली में ठहाके लगे जब उन्होंने कहा, “36 साल पहले यह हुआ था..मेरे पास एक बीयर थी! तो, आपको ऐसा लगता है? नहीं! वह एक बियर थी।”

ट्रंप ने क्रिस्टीन का मजाक उड़ाते हुए कहा कि उन्हें जगह, समय और कैसे वह इस स्थिति में फंसीं..कुछ भी याद नहीं है सिवाए इसके कि उन्होंने बीयर पी थी..और, इसकी वजह से एक आदमी के जीवन के चीथड़े उड़ रहे हैं।

-आईएएनएस