दक्षिण कोरिया : भ्रष्टाचार मामले में पूर्व राष्ट्रपति को 15 साल कैद


(Xinhua/Lee Sang-ho/IANS)

सियोल। यहां एक अदालत ने शुक्रवार को पूर्व राष्ट्रपति ली म्युंग-बैक को भ्रष्टाचार के विभिन्न मामलों में दोषी मानते हुए उन्हें 15 वर्षो की कैद की सजा सुनाने के साथ-साथ उन पर 110 करोड़ डॉलर का जुर्माना लगाया है। वे दक्षिण कोरिया के चौथे पूर्व नेता हैं जिन पर आपराधिक मामला साबित हुआ है।

समाचार एजेंसी योनहाप की रिपोर्ट के अनुसार, टीवी पर अदालत की कार्यवाही का सीधा प्रसारण हुआ। सियोल की अदालत ने कहा कि ली (76) ही उनके भाई की कंपनी डास के वास्तविक मालिक हैं। भ्रष्टाचार के मामले के केंद्र में यही कंपनी है।

अदालत ने कहा कि उन्होंने डास के अधिकारियों को अवैध धन लाने के लिए कहा और वे कंपनी से जुड़ी कई अनियमितताओं के लिए जिम्मेदार हैं। ली पर लंबे समय से कंपनी का वास्तविक मालिक होने का शक था।

2008-13 तक देश के राष्ट्रपति रहे ली को अप्रैल में रिश्वत लेने, गबन और पद का दुरुपयोग करने सहित कुल 16 मामलों में दोषी पाया गया था। अभियोजन पक्ष ने ली के लिए 20 साल सजा की मांग की थी।

अभियोजन पक्ष ने ली पर 35 अरब वॉन के गबन का आरोप लगाया गया लेकिन अदालत ने साक्ष्यों के अभाव का हवाला देते हुए ली को मात्र 24 अरब वॉन गबन का दोषी पाया।

कार्यवाही के सीधे प्रसारण करने के अदालत के फैसले के विरोध प्रदर्शन के तौर पर ली शुक्रवार की सुनवाई में अदालत परिसर में अनुपस्थित रहे।

-आईएएनएस