रमजान माह में भीख मांगने के लिये ट्रावेल विजा पर दुबई पहुंच रहे हैं इस देश के लोग


(PC : khaleejtimes.com)

दुबई पुलिस ने विगत दिनों एक पत्रकार वार्ता करके बताया है कि एशियाई देशों से आए कई ऐसे भिखारियों को गिरफ्तार किया गया है जो ट्रावेल विजा पर एक महीने के लिये दुबई पहुंचे हैं। उन्होंने संकेत दिया कि ये लोग दक्षिण एशियाई देशों जैसे कि भारत, बांग्लादेश और पाकिस्तान से हैं।

रमजान माह के दौरान संयुक्त अरब अमीरात में भिखारियों को मोटी रकम लोग दान में देते हैं। यही कारण है कि लोग ट्रावेल विजा लेकर दुबई पहुंच जाते हैं। इस माह के दौरान दुबई और अबुधाबी में भिखारियों की तादाद अचानक बढ़ जाने के पीछे यही तथ्य कारणभूत बताया गया है।

यहां बड़ी संख्या में ऐसे भिखारी नजर आते हैं, जिन्हें पहले कभी नहीं देखा गया होता। ये लोग बाजारों में भीख मांगते हुए घूमने लगते हैं। दुबई पुलिस ने ऐसे एक भिखारी को पकड़ा है जिसके पास एक लाख दिरहाम यानि १८ लाख रुपये मिले और आश्चर्य होगा कि यह बड़ी राशि उसने भीख मांग कर इकठ्ठा की। रमझान माह में जरूरतमंदों को सहायता करना पवित्र काम माना जाता है। इसी मान्यता का गलत लाभ कुछ उठाने की चेष्टा करते हैं।

दुबई पुलिस ने कमिश्नर ने पत्रकार वार्ता में कहा कि इस प्रकार भीख मांग रहे लगभग २५० लोगों को गिरफ्तार किया गया है। ये लोग सुनियोजित ढंग से दक्षिण एशियाई देशों से आये और कुछेक को ट्रावेल एजेंसियों ने भी मदद की।