इंडोनेशिया : भूकंप, सुनामी में मरने वालों की संख्या 2010 हुई


(Xinhua/Wang Shen/IANS)

जकार्ता। इंडोनेशिया के सुलावेसी द्वीप में 28 सितम्बर को आए 7.5 तीव्रता के भूकंप और इसके बाद सुनामी से मरने वालों की संख्या बढ़कर मंगलवार को 2010 हो गई। इंडोनेशियाई प्रशासन ने यह जानकारी दी।

एफे न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, आधिकारिक रूप से 671 लोग लापता हैं तथा इस बात की आशंका है कि अभी भी 5,000 लोग मलबे में दबे हुए हैं।

राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन एजेंसी के प्रवक्ता सुतोपो पुरवो नुग्रोहो ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, “इससे सबसे ज्यादा प्रभावित केंद्रीय सुलावेसी प्रांत की राजधानी पालू हुई है जहां 1,601 लोगों की मौत हुई है।”

इसके अतिरिक्त प्रांत के सीगी में 222, डोंगाला में171 और परीगी माउंटोंग में 15 लोगों की मौत हुई।

सुतोपो ने कहा कि 10,679 लोग घायल हुए हैं जिनमें 2,549 लोग गंभीर रूप से घायल हैं। 82,775 लोग विस्थापित होकर सैकड़ों राहत शिविरों में रह रहे हैं।

आधे से ज्यादा मृतकों को सामूहिक कब्रों में दफन कर दिया गया जबकि अन्य को उनके परिजनों ने दफन किया।

प्रभावित क्षेत्र में 90 फीसदी विद्युत आपूर्ति सुचारू रूप से चालू कर दी गई है।

एशियन डेवलपमेंट बैंक ने सोमवार को प्रभावित क्षेत्र के लिए तत्काल तीस लाख डॉलर की राहत राशि मदद के तौर पर जारी की।

देश में 2004 में आई सुनामी के बाद सुलावेसी में आया भूकंप और सुनामी सबसे प्रलयकारी साबित हुए हैं। 2004 में आई सुनामी में 1,67,000 लोगों की मौत हो गई थी।

(Xinhua/Agung Kuncahya B./IANS)

इंडोनेशिया के अधिकारियों ने आपदा की पुरानी तस्वीरों के साथ एक अन्य भूकंप के बारे में जारी की गई ऑनलाइन फर्जी रपटों के मामले में लोगों से शांति बनाए रखने का आग्रह किया है और ऐसी खबरों के प्रति आगाह किया है, ताकि देश में अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो।

समाचार एजेंसी एफे के मुताबिक, यह चेतावनी सुलवेसी द्वीप में 5.2 तीव्रता के एक अन्य भूकंप के झटके के बाद जारी की गई, जहां 28 सितंबर को आए 7.5 तीव्रता के भूकंप के झटके और सुनामी से करीब 2000 लोग मारे गए थे, जबकि 5,000 अन्य लापता हो गए थे।

नेशनल एजेंसी फॉर डिजास्टर मैनेजमेंट(बीएनपीबी) के प्रवक्ता सुतोपो ने एक बयान में लोगों से केवल सूचना के आधिकारिक सूत्रों पर ही भरोसा करने के लिए कहा।

मंगलवार को भूकंप यहां पालू शहर के पांच किलोमीटर दक्षिणपूर्व में आया, जो कि 28 सितंबर को आए भूकंप और उसके बाद 9.8 फुट ऊंची लहरों वाली सुनामी से सबसे ज्यादा प्रभावित था।

सुलवेसी भूकंप में मरने वालों की संख्या 1,944 बताई जा रही है, जबकि भूस्खलन, तेज हवाओं और इमारतों के ध्वस्त होने की घटनाओं में करीब 75,000 लोगों को अपने घरों से विस्थापित होना पड़ा है।

भूकंप से सबसे ज्यादा प्रभावित पालू के बालारोआ और पेटोबो जिलों में राहत और बचाव अभियान चलाया जा रहा है, जहां अभी भी 5,000 लोग मलबे के नीचे दबे हो सकते हैं, जबकि अधिकारियों के मुताबिक लापता लोगों की संख्या 835 है।

बीएनपीबी के अनुसार, द्वीप के बड़े क्षेत्रों में पानी, बिजली और ईंधन की आपूर्ति बहाल कर दी गई है और हाल के दिनों में बाजार भी खुल गए हैं।

-आईएएनएस