पुलवामा हमले पर भारत की प्रतिक्रिया के बाद पाकिस्तान की क्या हुई दशा


(Photo Credit : amarujala.com)

14 फरवरी को पुलवामा में हुए आतंकवादी हमलों के बाद पाकिस्तानी लोगों को महंगाई की मार का सामना करना पड़ रहा है। इस हमले के बाद, पाकिस्तान की बहुत ही खराब दशा हो गई है, मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा छीन लेने के बाद, भारत ने पाकिस्तान से आयातित वस्तुओं पर 200% आयात शुल्क लगा दिया, जिससे पाकिस्तान को बड़ा झटका लगा। आयात शुल्क में वृद्धि होने से भारत के अटारी बोर्डर से पाकिस्तान के साथ व्यापार पूरी तरह से ठप हो गया।

व्यापार घाटे का सबसे ज्यादा असर ट्रक ऑपरेटरों पर हुआ है। 14 फरवरी से अब तक केवल 250 ट्रक बेचे गए हैं। इन ट्रकों में से कई ऑपरेटर ऐसे भी हैं जिन्होंने बड़े कर्ज के साथ ट्रक खरीदा है। व्यापार बंद होने के बाद ट्रकों को काम ना मिलने से अब वे EMI का भुगतान नहीं कर पा रहे हैं। उनकी स्थिति इतनी खराब है कि उन्हें अपना घर बेचने के लिए मजबूर होना पड़ा है।

इस संबंध में, अटारी ट्रक ऑपरेटर यूनियन के कुलविंदर सिंह संधू ने कहा कि ICP बनने के बाद, 160 लोगों ने 517 वाहन खरीदे। लेकिन भारत से आयात शुल्क में वृद्धि के बाद, काम पूरी तरह से बंद हो गया है। काम डेढ़ महीने के बाद फिर से शुरू होने की उम्मीद थी लेकिन ऐसा नहीं हो सका।