चीन ने कोरोना वायरस की वैक्सीन की तैयार, मेजर जनरल को लगाया पहला इंजेक्शन


(प्रतिकात्मक तस्वीर)

बीजिंग (ईएमएस)। चीन में तबाही मचाने वाला कोरोना वायरस अब लगभग दुनिया में फैल चुका है। चीन में इस वायरस ने लगभग 300 से भी ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है व 80,000 लोग संक्रमित है।

अब चीन ने इस बात का दावा किया है कि उसने कोरोना वायरस (कोविड-19) से बचने के लिए एक वैक्सीन खोज निकाली है। चीन की सेना की मेडिकल टीम बीते एक महीने से वुहान में पीपुल्स लिबरेशन ऑर्मी की मेडिकल विशेषज्ञ शेन वेई की लीडरशिप में यह वैक्सीन तैयार की गई है। दुनिया के पहले नए कोरोना वायरस वैक्सीन का टेस्ट आविष्कारक शेन वेई के बाएं हाथ में वैक्सीन को इंजेक्ट करके किया गया।

शेन वेई चीनी सेना की वही मेजर जनरल हैं जिन्होंने कुछ साल पहले सार्स और इबोला जैसे खतरनाक वायरस से बचने की वैक्सीन बनाई थी और पूरी दुनिया को उनके खतरों से बचाया था। चीनी ऑर्मी की मेजर जनरल शेन (58) ने बताया कि उनकी टीम ने किस तरह से रातों दिन एक करके इस कल्याणकारी वैक्सीन का निर्माण किया है।

गौरतलब है ‎कि यह पहला मौका नहीं है जब चीन की इस मेडिकल टीम ने किसी बड़ी महामारी के इलाज के लिए ऐसा काम किया हो। इसके पहले साल 2002 में सार्स फैलने के दौरान और साल 2014 में इबोला वायरस से निपटने के लिए शेन की इस टीम ने कई मेडिसिनस और वैक्सीन का निर्माण किया था। शेन और उनकी टीम ने मिलकर मिलिट्री मेडिकल साइंस अकादमी ने ऐसे खतरनाक वायरस से बचने के लिए वायरस की जांच के लिए किट तैयार की थी।