सिडनी में प्रतीकात्मक ‘दांडी मार्च’ के साथ गांधी जयंती का जश्न


सिडनी। आस्ट्रेलिया में युनिवर्सिटी ऑफ न्यू साउथ वेल्स (यूएनएसडब्ल्यू) परिसर में मंगलवार को महात्मा गांधी की जयंती पर एक प्रतीकात्मक दांडी यात्रा आयोजित की गई, जिसका नेतृत्व बच्चों ने किया।

भारत के महावाणिज्यदूत बी. वनलालवाना ने कहा कि गांधी के विचार और मूल्य अभी भी प्रासंगिक हैं और उन्हें याद करना उन विचारों का एक जश्न है।

यूएनएसडब्ल्यू के प्रो. कुलपति (अंतर्राष्ट्रीय) लौरी पियर्सी ने कहा कि युनिवर्सिटी के पुस्तकालय को अगले दो सप्ताहों तक भारतीय तिरंगे के रंग वाली रोशनी से जगमग किया जाएगा।

उन्होंने कहा, “गांधी परिवर्तन और प्रतिरोध के एक पैरोकार थे, बल्कि सद्भाव, सहिष्णुता और सहयोग के भी। उनका जन्मदिन इसीलिए मनाया जा रहा है, और यह जितना आस्ट्रेलिया में प्रासंगिक है, उतना ही भारत में और कई अन्य देशों में।”

यह आयोजन गांधी की कांस्य अर्धप्रतिमा के समक्ष आयोजित किया गया, जिसे भारत सरकार ने यूएनएसडब्ल्यू को 2010 में भेट किया था।

पियर्सी ने कहा कि यह विश्वविद्यालय द्वारा पेश किए गए सुरक्षित और सौहार्द्रपूर्ण वातावरण का प्रतीक है, जहां लगभग 1,200 भारतीय विद्यार्थी शिक्षा ग्रहण करते हैं।

उन्होंने कहा कि यूएनएसडब्ल्यू के लिए भारत पिछले 30 सालों से एक महत्वपूर्ण देश रहा है और 2025 अपनी रणनीति के हिस्से के रूप में युनिवर्सिटी आस्ट्रेलिया-भारत रिश्ते में दीर्घकालिक वृद्धि के लिए प्रतिबद्ध है।

-आईएएनएस