अमेरिका के नॉर्डहॉस, रोमर को मिला अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार


स्टॉकहोम। इस साल अर्थशास्त्र में दो अमेरिकी अर्थशास्त्रियों को नोबेल पुरस्कार विजेता घोषित किया गया है।

रॉयल स्वीडिश अकेडमी ऑफ साइंसेस ने सोमवार को अर्थशास्त्र में नोबेल पुरस्कार-2018 के लिए अमेरिकी अर्थशास्त्री विलियम नॉर्डहॉस और पॉल रोमर को विजेता घोषित किया।

विलियम नॉर्डहॉस और पॉल रोमर को वैश्विक अर्थव्यवस्था में दीर्घकालीन टिकाऊ विकास समेत मौलिक व आवश्यक मसलों का समाधान की विधियां तैयार करने के लिए इस साल अर्थशास्त्र में नोबेल पुरस्कार मिला है।

अर्थशास्त्र में नोबेल पुरस्कार स्वीडिश उदार दानदाता अल्फ्रेड नोबेल की याद में दिया जाता है।

नोबेल पुरस्कार समिति के अनुसार, येल विश्वविद्यालय में अर्थशास्त्र के प्रख्यात प्रोफेसर नॉर्डहॉस को जलवायु परिवर्तन से होने वाले नुकसान के संबंध में उनके कार्य के लिए इस साल के नोबेल पुरस्कार के लिए चुना गया है।

पॉल रोमर 24 जनवरी तक विश्व बैंक के मुख्य अर्थशास्त्री और सीनियर वाइस प्रेसिडेंट थे। वह अंतर्जात विकास सिद्धांत के प्रवर्तक रहे हैं और उन्होंने इस बात का परीक्षण किया है कि अर्थशास्त्री किस प्रकार बेहतर आर्थिक विकास दर हासिल कर सकते हैं।

समिति ने कहा कि नॉर्डहॉस और रोमर के बनाए मॉडलों से आर्थिक संवृद्धि बढ़ाने और जलवायु परिवर्तन से निपटने में मदद मिली है।

समिति ने कहा कि दुनिया की कुछ बड़ी समस्याओं का समाधान करने के लिए वे समष्टि अर्थशास्त्र के सिद्धांत को वैश्विक स्तर पर ले गए।

वर्ष 1969 से लेकर 2017 तक अर्थशास्त्र में 79 लोगों को नोबेल पुरस्कार से नवाजा गया है।

-आईएएनएस