इंडोनेशिया में भूकंप, सुनामी; मरने वालों की संख्या 832 हुई – देखें भूकंप-सुनामी की तस्वीरें व वीडियो


PALU, Sept. 29, 2018 (Xinhua) -- इंडोनेशिया नेशनल बोर्ड ऑफ डिजास्टर द्वारा भूकंप और सुनामी की आपदा के बाद एक राहत शिविर की तस्वीर उपलब्ध कराई गई। यह शिविर सुनामी से सर्वाधिक प्रभावित पालू शहर के उदांता होस्पीटल की है। (Xinhua/IANS)

जकार्ता| इंडोनेशिया के सुलावेसी द्वीप में रिक्टर पैमाने 7.5 की तीव्रता पर आए भूकंप के बाद आई सुनामी के चलते हुए हादसों में रविवार को मरने वालों की संख्या बढ़कर 832 हो गई। देश के आपदा प्रबंधन एजेंसी के मुताबिक, बचाव कार्य अभी भी जारी है।

इंडोनेशिया के पालू शहर में सरकारी एयर नेविगेशन टावर को भूकंप के कारण काफी नुकसान हुआ। यह तस्वीर इंडोनेशिया की वायु सेना की ओर से जारी की गई। (Xinhua/Indonesian Air Force/IANS)

सीएनएन के अनुसार, द्वीप में शुक्रवार को आए भूकंप के बाद पानी इमारतों में घुस गया और 350,000 लोगों की आबादी वाले तटीय शहर पालू के घरों को बहा ले गया।

नुग्रोहो ने कहा कि सैकड़ो लोग घायल हुए हैं और करीब 17,000 बेघर हुए हैं।

सुतोपो ने कहा कि बिजली और दूरसंचार सेवाएं ठप हो गई हैं, जिसके चलते पालू और पास के मछुआरे समुदाय डोंगगाला तक पहुंच बनाने में दिक्कत हो रही है।

इंडोनेशिया में अंतर्राष्ट्रीय रेड क्रॉस के प्रमुख जेन जेलफेंड ने सीएनएन को बताया, “ऐसा सिर्फ शहरी इलाकों में नहीं है बल्कि दूरदराज के इलाकों में रह रहे समुदायों तक भी पहुंच बनाने में मुश्किल हो रही है।”

पालू शहर में जब शुक्रवार को शक्तिशाली भूकंप के बाद आई सुनामी ने कहर बरपाया, उस समय वहां बीच फेस्टिवल की तैयारियां चल रही थीं।

सोशल मीडिया पर पोस्ट वीडियो में लोग चीखते-चिल्लाते हुए खुद को बचाने के लिए भागते नजर आ रहे हैं। अस्पतालों, होटलों, व्यापारिक प्रतिष्ठानों सहित हजारों घर ढह गए। पालू में शनिवार को भी भूकंप के जबरदस्त झटके महसूस किए गए।

सुतोपो ने कहा कि मकान नष्ट हो गए और कई परिवारों के लापता होने की खबर है। उन्होंने कहा, “हमने भूकंप के कारण हुए हादसों में मारे गए लोगों के और सुनामी आने के कारण तेज लहरों में बहे लोगों के शव बरामद किए हैं।”

उन्होंने कहा कि सरकार आपात स्थिति घोषित करने के लिए तैयार है और क्षेत्र में सबसे महत्वपूर्ण काम बिजली और संचार सेवा को बहाल करने का है।

इंडोनेशिया में आये भयानक भूकंप में बड़ी संख्या में लोग हताहत हुए हैं। तस्वीर में एक क्षतिग्रस्त मकान के पास से गुजरात बच्चा। (Xinhua/IANS)

बीबीसी ने बताया कि कुछ ऐसे प्रभावित तटीय इलाके हैं, जहां संचार सेवाओं पर असर पड़ा है और पालू में अधिकारी डोंगगाला समुदाय (मछुआरों का एक समुदाय) से संपर्क नहीं साध पा रहे हैं।

बीएनबीपी के प्रवक्ता ने कहा कि पालू के हवाईअड्डे पर दूरसंचार और हवाई परिवहन के अधिकारी पहुंचे और कुछ खराब हुए बिजली के उपकरणों की मरम्मत करने का काम किया।

पोसो, टोलिटोली, लुवुक और मामूजू हवाईअड्डे खुले हुए हैं।

इंडोनेशिया में आये भूकंप और उसके बाद सुनामी का सर्वाधिक असर पालू शहर पर पड़ा। वायु सेना की ओर से जारी तस्वीर में शहर का सबसे अधिक उपयोग में लिये जाने वाला पुल पूरी तरह से क्षतिग्रस्त नजर आ रहा है। (Xinhua/Indonesian Air Force/IANS)

अधिकारियों ने सुनामी की लहरें करीब 10 फुट ऊंची होने का अनुमान लगाया, लेकिन पालू में लिए गए एक वीडियो में ये लहरें एक मंजिला इमारत की छत से भी ऊंची नजर आ रही हैं।

पालू और डोंगगाला में 600,000 से ज्यादा लोग रहते हैं।

नक्शे पर पलू शहर कुछ इस प्रकार नजर आता है।

इंटरनेट पर एक वीडियो भी वायरल होता दिखा जिसमें लहरें समुद्र तटीय इलाकों की इमारतों को पाटती नजर आईं।

कुछ ट्वीटर यूजर्स ने गूगल मैच की जरिये उस जगह का अनुमान लगाने का प्रयास किया है, जहां से यह वीडियो शूट किया गया होगा।

भूकंप के समय की कुछ तस्वीरें भी अब सामने आने लगी हैं। प्रस्तुत तस्वीर में लोग नमाज पढ़ रहे थे, तभी धरती कांपने लगी।

https://twitter.com/CholinsM/status/1045848504055156736

–आईएएनएस व अन्य इनपुट के साथ।