हिलेरी िंक्लटन ने कहा, ‘भयावह हैं ट्रंप’


वािंशगटन। राष्ट्रपति पद की डेमोव्रेâटिक उम्मीदवारी की प्रमुख दावेदार हिलेरी िंक्लटन ने अपने रिपाqब्लकन प्रतिद्वंद्वी के नफरत से भरे नजरिए की आलोचना करते हुए इस दिग्गज को `भयावह’ करार दिया है। वर्ष २०१२ के रिपाqब्लकन उम्मीदवार मिट रोमनी द्वारा अपनी ही पार्टी के प्रमुख दावेदार की आलोचना किए जाने के कुछ घंटे बाद हिलेरी ने अपने समर्थकों को लिखे पत्र में कहा, “मुझे लगता है कि डोनाल्ड ट्रंप भयावह हैं और मैं निाqश्चत तौर पर उनके उस रूख से नफरत करती हूं, जिसकी वह वकालत करते हैं।” हिलेरी ने अपने पत्र में कहा, “जिस तरह से वह अपनी सहूलियत के हिसाब से महिलाओं, अश्वेतों और सभी देशों का अपमान करते हैं। मुझे उससे नफरत है। अमेरिकियों को प्रभावित करने वाले जटिल मुद्दों पर उनमें समझ की जो कमी है, मुझे उससे नफरत है।” हिलेरी ने कहा, “मुझे इस बात से नफरत है कि उन्होंने केकेके के पूर्व नेता की ओर से समर्थन को नकारने के लिए कहा कि वह केकेके के बारे में ज्यादा नहीं जानते। वह क्या जानना चाहते हैं? यह केकेके है। लेकिन जिस बात से मैं सबसे ज्यादा नफरत करती हूं, वह यह है कि ट्रंप हमारे अगले राष्ट्रपति हो सकते हैं।” इससे पहले दिन के समय, ६९ वर्षीय ट्रंप ने दावा किया था कि एक वही हैं जो नवंबर में होने वाले राष्ट्रपति चुनावों में हिलेरी को हरा सकते हैं। हिलेरी और ट्रंप ने हाल ही में कई राज्यों में संपन्न हुए बेहद अहम `सुपर टयूजडे’ प्राइमरी चुनावों में भारी जीत हासिल करने के बाद व्हाइट हाउस तक की अपनी दौड़ को तेज कर लिया है ताकि राष्ट्रपति पद के लिए अपने-अपने दलों की उम्मीदवारी पर उनकी पकड़ बनी रहे। दोनों ने ही अपने-अपने दलों की सात प्राइमरी जीतीं। इसके साथ ही नवंबर में होने वाले राष्ट्रपति चुनावों में प्रमुख टक्कर इन्हीं दोनों दावेदारों के बीच होती दिखाई दे रही है। हिलेरी पहले भी विवादास्पद ट्रंप को निशाने पर ले चुकी हैं। अमेरिका को फिर से महान बनाने के ट्रंप के संकल्प पर हमला बोलते हुए हिलेरी ने कहा था, “अमेरिका की महानता कभी कम नहीं हुई।”