सीरिया में 1500 स्थानों पर अंधाधुंध हवाई हमले : ह्यूमन राइट


संयुक्त राष्ट्र। मानवाधिकार संगठन ह्यूमैन राइट वाच ने कहा कि उसने सीरिया में लगभग १,५०० ऐसे स्थानों की पहचान की है जहां सीरिया सरकार ने सालभर में अंधाधुंध हवाई हमले किए हैं। इस हमले में बैरल बम और अन्य हथियारों का इस्तेमाल किया गया जिसके कारण हजारों लोग मारे गए हैं और घायल हुए हैं।
मानवाधिकार संगठन ने राष्ट्रपति बशर असद पर इस मामले में भी झूठ बोलने का आरोप लगाया जब उन्होंने कहा कि उनकी सरकार बैरल बमों का इस्तेमाल नहीं कर रही है। संगठन की नई रिपोर्ट में कहा कि हमलों के कारण नागरिकों पर विनाशकारी प्रभाव पड़ा है। ह्यूमैन राइट वाच ने कहा कि उपग्रह से ली गई तस्वीरों से पता चलता है कि १० शहरों और गांवों में लगभग ४५० महत्वपूर्ण स्थानों को नुकसान पहुंचा है। दक्षिण में दरा प्रांत में ग्रामीणों और सीरिया के सबसे बड़े शहर एवं युद्ध से तबाह अलेप्पो में १,००० से अधिक लोगों को विद्रोही समूहों द्वारा बंधक बना कर रखा गया है। समूह के मध्य पूर्व एवं उत्तरी अप्रâीका के निदेशक नदीम होउरी ने पत्रकारों को बताया कि अधिकतर मौतें असद सरकार के कारण हुई हैं और सीरिया में लोगों के विस्थापन का मुख्य कारण बमबारी है। संयुक्त राष्ट्र के अनुमान के मुताबिक, चार साल में सीरिया संघर्ष के दौरान २लाख२०हजार व्यक्ति मारे जा चुके हैं और ६५ लाख लोग देश के भीतर और ३० लाख से अधिक लोग पड़ोसी देशों में विस्थापित हुये हैं।