समुद्री भूकंप के बाद जापान में मामूली सुनामी


तोक्यो। समुद्र के भीतर जबरदस्त भूवंâप आने के कारण उत्तरी जापान में मंगलवार को मामूली सुनामी आयी। इसी क्षेत्र में २०११ में भीषण सुनामी आने के कारण भारी तबाही हुयी थी। पूर्वी इवाते प्रांत में पूर्वान्ह नौ बजकर सात मिनट पर २० सेंटीमीटर की लहरें रिकॉर्ड की गयीं। जापान मौसम विज्ञान एजेंसी (जेएमए) ने एक मीटर उंची सुनामी लहरें उठने की आशंका जतायी थी। एजेंसी ने चेताया है कि कुजी में लहरें उठ रही हैं। बहरहाल, इनका वेग अधिक होने की आशंका नहीं है। इवाते प्रांत के अन्य तटीय भागों में १० सेंटीमीटर तक की लहरें रिकार्ड की गयीं। फिलहाल, किसी नुकसान या किसी के हताहत होने की जानकारी नहीं है। हवाई दृश्यों में तट के करीब समुद्री जल स्तर में कोई स्पष्ट बढ़ोतरी नहीं दिखी। इलाके में बंदरगाह में भी कोई बदलाव देखने को नहीं मिला है। यहां पर प्रसारक एनएचके ने स्थायी रूप से वैâमरे लगा रखे हैं। एजेंसी के अनुसार, सुबह आठ बज कर छह मिनट पर भूवंâप इवाते के मियाको से करीब २१० किमी पूर्व में प्रशांत क्षेत्र में १० किमी की गहराई पर आया। एक अधिकारी ने बताया कि २०११ के भूवंâप के मद्देनजर भूवैज्ञानिक ाqस्थति पर नजर रखे हुए हैं। एनएचके की खबर के मुताबिक, इवाते में स्थानीय अधिकारियों ने १९,००० से ज्यादा लोगों को वहां से निकालने का परामर्श जारी किया। सुनामी का परामर्श तटीय हिस्से के जिन बड़े इलाकों के लिए जारी किया गया वहां वर्ष २०११ में भूवंâप और सुनामी की वजह से १८,००० से अधिक लोग मारे गए थे और पुâकुशिमा परमाणु हादसा हुआ था।