शरीफ ने कश्मीर मुद्दे को पाक के लिए `गले की नस’ की तरह अहम बताया


इस्लामाबाद । पाकिस्तान प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कश्मीर को अपने देश के लिये `गले की नस’ की तरह महत्वपूर्ण मुद्दा बताया। प्रतिवर्ष ५ फरवरी को मनाये जाने वाले एकजुटता दिवस पर शुक्रवार को शरीफ ने मुजफ्फराबाद में पाक अधिकृत कश्मीर विधानसभा के एक संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि उनका बचपन से ही कश्मीर के साथ एक भावनात्मक जुड़ाव है और वह कश्मीर के लोगों के अधिकार के लिए संघर्ष करते रहेंगे, जो पाकिस्तान के लिए `गले की नस’ अहमियत रखता है।
शरीफ ने `कश्मीर एकजुटता दिवस’ के मौके पर कहा कि दक्षिण एशिया में शांति सिर्पâ कश्मीर मुद्दे के हल से ही संभव है। इस क्षेत्र में १५० करोड़ लोगों का भविष्य कश्मीर मुद्दे से जुड़ा हुआ है। उन्होंने कहा कि कश्मीर के लोगों की इच्छा के खिलाफ कोई भी पैâसला पाकिस्तान सरकार द्वारा स्वीकार नहीं किया जाएगा।उन्होंने कहा कि कश्मीर मुद्दे का हल इसके लोगों को आत्मनिर्णय का अधिकार देने से ही होगा। सूत्रों ने शरीफ के हवाले से कहा है कि वह समय दूर नहीं है जब संकट के बादल छट जाएंगे और कश्मीरी लोग आजादी का सूर्योदय देखेंगे।उन्होंने कहा, “इस विषय में कोई समझौता नहीं होगा, यह पूरे राष्ट्र के लिए एक मुद्दा है और अपने संकल्प से हम प्रगति करेंगे।” शरीफ ने कहा कि यह उनकी सरकार की जिम्मेदारी है कि कश्मीर को लगातार समर्थन मुहैया कराये। इस बीच, शरीफ ने पाक अधिकृत कश्मीर की ऑल पार्टी र्हुिरयत कांप्रेंâस के एक प्रतिनिधिमंडल से भी मुजफ्फराबाद में विधानसभा सचिवालय में मुलाकात की। शरीफ ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों के आधार पर कश्मीर विवाद का एक उचित और शांतिपूर्ण हल करने की प्रतिबद्धता बताई।