विवादित सीमा में प्रवेश उ. कोरियाई नौका पर गोलीबारी


सोल। दक्षिण कोरिया की नौसेना ने विवादित समुद्री सीमा में घुसी उत्तरी कोरिया की एक गश्ती नौका पर सोमवार चेतावनी के तहत गोलियां दागीं। दक्षिण कोरिया की इस कार्रवाई से महज एक दिन पहले ही उत्तर कोरिया ने लंबी दूरी के रॉकेट का प्रक्षेपण किया था, जिससे तनाव बढ़ा हुआ है। सोल में रक्षा मंत्रालय ने कहा कि उत्तर कोरिया के पोत ने पीला सागर सीमा को रविवार स्थानीय समायानुसार सुबह सात बजे से ठीक पहले पार किया। मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा, दक्षिण कोरियाई नौसेना की ओर से चेतावनी के तहत गोलियां दागी जाने के तुरंत बाद उस पोत से वापस जवाबी कार्रवाई की गई। दोनों कोरियाई देशों के बीच की वास्तविक समुद्री सीमा रेखा- नॉदर्न लिमिट लाइन-को प्योंगयांग मान्यता नहीं देता। उसका कहना है कि इस सीमा रेखा को अमेरिकी नेतत्ववाले संयुक्त राष्ट्र के बलों ने वर्ष १९५०-५३ के कोरियाई युद्ध के बाद एकपक्षीय तरीके से खींच दिया था। दोनों ही पक्ष एक-दूसरे के द्वारा घुसपैठ किए जाने की शिकायतें करते रहे हैं। वर्ष १९९९, २००२ और २००९ में दोनों के बीच सीमित नौसैन्य झड़पें होती रही हैं। सोमवार की घुसपैठ जैसी घटना आम है और ये बमुाqश्कल ही गंभीर रूप लेती हैं। हालांकि रविवार के रॉकेट प्रक्षेपण के बाद से दक्षिण कोरिया बेहद अलर्ट है। सोल का कहना है कि यह रॉकेट प्रक्षेपण दरअसल बैलिाqस्टक मिसाइल का परीक्षण था। रविवार के इस प्रक्षेपण और पिछले माह किए गए परमाणु परीक्षण के बाद से दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति पार्वâ गुन हे ने उत्तर कोरिया की ओर से किसी भी अन्य उकसावे को लेकर सतर्वâता ब़रतने का आहवान किया है।