लीबिया के समुद्र तट पर मिले 119 शरणार्थियों के शव


ेएंथेस। अप्रâीकी प्रवासियों को लेकर जा रही नौका भूमध्यसागर में डूब जाने से करीब ११९ शरणार्थियों के शव लीबिया के समुद्र तट में मिले है। वहीं, दूसरी ओर समुद्र में बड़े पैमाने पर चलाए गए खोज एवं बचाव अभियान में ३४० लोगों को बचाया गया और नौ शव निकाले गए। दो नौकाओं का डूबना शरणार्थी और प्रवासियों के लिए घातक आपदा है। बता दें अब से पहले २५ मई तक ऐसे हादसों में १,००० से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है। ये शरणार्थी और प्रवासी उत्तर अप्रâीका से यूरोप के दक्षिणी तट तक पहुंचने के लिए समुद्र पार करने की कोशिश में जोखिम भरी और लंबी यात्रा करने के दौरान डूबे हैं।
लीबिया के रेड क्रीसेंट के प्रवक्ता मोहम्मद अल मोस्राती का कहना है कि लीबिया के पाqश्चमी शहर जवारा के पास से समुद्र से कुल ११७ शव निकाले गए हैं, जिनमें ७५ महिलाएं, छह बच्चे और ३६ पुरूष हैं। बता दें उनमें से कुछ अप्रâीकी देशों से थे। मृतकों की संख्या में बढ़ोतरी हो सकती है। वे कोई लाइफ जैकेट नहीं पहने हुए थे। प्रवक्ता ने बताया कि शवों की हालत खराब नहीं हुई है, इसलिए कहा जा सकता है कि यह हादसा पिछले ४८ घंटे के अंदर हुआ है। उन्होंने कहा कि जो नौका मिली है वह शायद पीड़ितों को ले जा रही थी, लेकिन तेज हवाओं और पानी की लहरों की वजह से शव एक स्थान से दूसरे स्थान पर जा सकते हैं, जिसके कारण अधिकारियों के लिए यह पता लगाना मुाqश्कल है कि त्रासदी कहां हुई थी।