मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति की गिरफ्तारी पर अमेरिका िंचतित


वािंशगटन ।अमेरिका ने आतंकवाद के आरोपों में मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद नशीद की गिरफ्तारी पर िंचता जताते हुए वहां की सरकार से कहा है कि वह लोकतंत्र, न्यायिक स्वतंत्रता एवं कानून के शासन के लिए अपनी प्रतिबद्धता के प्रति विश्वास बहाल करने के लिए कदम उठाए। विदेश विभाग की प्रवक्ता जेन साकी ने सोमवार को संवाददाताओं से कहा, “हम आतंकवाद के आरोपों में पूर्व राष्ट्रपति नशीद की गिरफ्तारी की खबरों से िंचतित हैं।” उन्होंने कहा, “सप्ताहांत, दक्षिण एवं मध्य एशिया मामलों की सहायक विदेश मंत्री निशा देसाई बिसवाल ने मालदीव के विदेश मंत्री से बात की और उन्हें इस गिरफ्तारी पर हमारी िंचता से अवगत कराया।” साकी ने कहा, “उन्होंने सरकार से शांतिपूर्ण प्रदर्शनों और प्रक्रियाओं के प्रति सम्मान सहित लोकतंत्र, न्यायिक स्वतंत्रता एवं कानून के शासन के लिए उसकी प्रतिबद्धता के प्रति विश्वास बहाली की दिशा में कदम उठाने को कहा।” गत रविवार को ४७ वर्षीय नशीद को आतंकवाद रोधी कानूनों के तहत गिरफ्तार कर लिया गया था। उन्हें वर्ष २०१२ में एक वरिष्ठ न्यायाधीश की गिरफ्तारी का कथित आदेश देने के मामले में गिरफ्तार किया गया है। उन्हें फौजदारी अदालत द्वारा जारी वारंट के तहत गिरफ्तार किया गया था। इसमें कहा गया था कि उन्हें इस संदेह के चलते गिरफ्तार किया जा रहा है कि वह मुकदमा छोड़कर भाग सकते हैं। नशीद ने इस मामले में गिरफ्तारी से बचने के लिए फरवरी २०१३ में माले में भारतीय उच्चायोग में शरण ली थी।