प्रभा ने मौत से पहले हमलावर से मांगी थी दया की भीख


सिडनी। सिडनी के उपनगरीय इलाके में घातक हमले में मारी गई भारतीय आईटी पेशेवर महिला ने हमलावर को अपनी ओर आते हुए देखा था और अपने अंतिम क्षणों में उससे दया की भीख मांगी थी। पुलिस इस बात की भी जांच कर रही है कि कहीं यह हमला पिछले साल हुए यौन हमलों से संबंधित तो नहीं है।
प्रभा अरुण कुमार की मौत शनिवार को वेस्टमीड ाqस्थत पैरामैट्टा पार्वâ में उस समय हो गई थी, जब उन पर चावूâ से घातक हमला किया गया था। उस समय ४१ वर्षीय प्रभा भारत में मौजूद अपने पति से फोन पर बात कर रही थीं। बातचीत के संदर्भ में पुलिस ने सोमवार को अरुण कुमार से पूछताछ की। ऑस्ट्रेलिया में प्रभा के साथ फ्लैट में रहने वाली महिला ने अरुण के ऑस्ट्रेलिया पहुंचने पर उससे बात की और एक स्थानीय टीवी स्टेशन को बताया कि फोन कॉल के दौरान क्या-क्या कहा गया था। उन्होंने बताया, “उसने उसे अपनी ओर आते देखा और फिर वह उसके पास से होता हुआ निकल गया। फिर अचानक वह चिल्लाई, `मुझे मत मारो, तुम जो चाहोगे, वो मैं करूंगी।’ इसके बाद वह अपनी मातृभाषा में दो बार बोली कि `उसने मुझे छुरा मार दिया है और इसके बाद उनका पति कुछ भी सुन नहीं पाया।”
प्रभा की मित्र ने पहचान उजागर न करने की शर्त पर जनता से यह अपील भी की कि अगर उनके पास कोई सुराग है, तो वे पुलिस को सूचित करें।
होमीसाइड स्क्वायड के प्रमुख डिटोqक्टव सुपरिटेंडेंट माइकल वििंलग के हवाले से कहा गया है कि पुलिस अरुण से उनकी पत्नी के साथ हुई इस आखिरी फोन कॉल के बारे में बात कर रही है ताकि विभिन्न जानकारियों को एकसाथ जुटाया जा सके। उन्होंने यह भी कहा कि इस क्षेत्र में हाल के महीनों में हुई अन्य घटनाओं की भी जांच की जा रही है।