जासूसी पर अर्जेंटीना ने ब्रिटिश राजदूत किया तलब


ब्यूनस आयर्स। अर्जेंटीना सरकार ने ब्रिटिश राजदूत को हाल की मीडिया रिपोर्टों के संबंध में सवालों के जवाब देने के लिए बुलाया है। इस रिपोर्ट में आरोप लगाया गया है कि ब्रिटेन ने अर्जेंटीना की कथित तौर पर इलेक्ट्रॉनिक जासूसी कराई है। गुरुवार को जारी किए एक बयान के मुताबिक, विदेश मंत्री ने ब्रिटिश राजदूत जॉन प्रâीमैन को पिछले हफ्ते एक ब्रिटिश वेबसाइट पर आई रिपोर्ट के सिलसिले में बात करने के लिए बुलाया है। वेबसाइट ने कहा कि ब्रिटेन ने २००६ से २०११ के बीच अर्जेंटीना की इलेक्ट्रॉनिक जासूसी कराई। उसका दावा किया कि यह रिपोर्ट उन दस्तावेजों पर आधारित है जो पूर्व खुफिया अधिकारी एडवर्ड स्नोडेन ने जारी किए हैं। इस ऑपरेशन में वंâप्यूटर में वायरस डालना और झूठी जानकारी का पैâलाना शामिल है ताकि फॉकलैंड द्वीपसमूह पर अर्जेंटीना का दावा नहीं माना जाए। यह द्वीपसमूह अर्जंटीना के पूर्व में ५०० किमी दूर स्थित है और इस पर ब्रिटेन और अर्जंटीना दोनों अपना दावा जताते हैं।