जापान के रेंकोजी मंदिर में हो सकता है नेताजी का सोने का दांत


लंदन। नेताजी सुभाष चंद्र बोस के अंतिम दिनों का विवरण तैयार करने वाली यहां की एक वेबसाइट का दावाहै कि नेताजी का सोने का पानी चढ़ा दांत टोक्यो के रेंकोजी मंदिर में रखे उनके आqस्थकलश में हो सकता है। वेबसाइट के मुताबिक, बोस के करीबी सहयोगी कर्नल हबीबुर रहमान ने अपने बेटे से कहा था कि अंत्योqष्ट के बाद जब वे आqस्थयां चुनने गए थे तब उन्होंने दांत आqस्थकलश में रख दिया था। कर्नल रहमान ताइवान में १८ अगस्त १९४५ की उस विमान दुर्घटना से जुड़े रहे थे जिसमें नेताजी की मौत बताई जाती है। इसमें दावा किया गया है कि अंतिम संस्कार के पहले दांत को निकाल लिया गया था और एक अधिकारी ने उसे कर्नल रहमान को सौंप दिया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा २३ जनवरी को सार्वजनिक किए गए नेताजी से जुड़े दस्तावेजों से पुाqष्ट हुई कि वेबसाइट के निर्माता आशीष राय ने १९९५ में तत्कालीन प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव, विपक्ष के नेता अटल बिहारी वाजपेयी, पाqश्चम बंगाल के मुख्यमंत्री ज्योति बसु और अन्य नेताओं को इसके बारे में बताया था। कर्नल रहमान का १९७८ में निधन हो गया था। इससे पहले उन्होंने अपने पुत्र नईमुर को विस्तृत जानकारियां दी थी। हादसे की जांच के सिलसिले में १९९० के दशक में इस्लामाबाद गए राय की नईमुर से मुलाकात हुई थी।