चीन ने की मानसरोवर तीर्थयात्रियों की संख्या बढ़ाने की पेशकश


बीिंजग। चीन ने २५० तीर्थयात्रियों के अलावा और भारतीय तीथयात्रियों को सिाqक्कम के नाथुला के रास्ते तिब्बत में वैâलाश और मानसरोवर के वास्ते मंजूरी देने की पेशकश की है। बता दें पिछले वर्ष २५० तीर्थयात्रियों को नये मार्ग से जाने की इजाजत दी गयी थी। चीन के राष्ट्रपति शी जिनिंपग ने यहां राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के साथ वार्ता के दौरान तीर्थयात्रियों की संख्या बढ़ाने की पेशकश की। इस वार्ता के बाद चीन के विदेश मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘भारतीय तीर्थयात्रियों के सपने को साकार करने के लिए चीन तिब्बत स्वायत्त क्षेत्र में नाथुला दर्रे के रास्ते यात्रा के लिए भारतीय तीर्थयात्रियों के दायरे का विस्तार करने को तैयार है।’ गौर हो चीन ने पिछले साल नाथुला दर्रे के जरिए नया मार्ग खोला था और हर साल सात जत्थों में २५० लोगों को तीर्थयात्रा करने की इजाजत दी थी। नये मार्ग में सीधे ट्रेन और बसों से यात्रा करनी होती है और खच्चरों पर सवार होकर दुर्गम पहाड़ी क्षेत्रों से नहीं गुजरना पड़ता है। अधिकारियों का कहना है कि दोनों देशों के बीच वार्ता के बाद अतिरिक्त संख्या को अंतिम रूप दिये जाने की संभावना है।