उत्तर कोरिया के परमाणु हथियार कार्यक्रम पर प्रतिबंध जरुरी


सियोल। दक्षिण कोरिया ने उत्तर कोरिया को चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर उसने परमाणु हथियार कार्यक्रम बंद नहीं किया तो वह खत्म हो जाएगा। यह चेतावनी राष्ट्रपति पार्वâ गुन-हे ने अपने संसदीय संबोधन में दी है। इस संबोधन को टेलीविजन चैनलों ने भी प्रसारित किया गया था। उत्तर कोरिया के साथ संयुक्त प्रबंधन समझौते के तहत चलने वाले काएसोंग औद्योगिक आस्थान में दक्षिण कोरिया के कारखानों को बंद करने के अपने पैâसले के समर्थन में राष्ट्रपति ने कहा, यह उत्तर कोरिया को परमाणु परीक्षण करने के लिए कड़े जवाब का एहसास कराएगा। यह मजबूत और ज्यादा प्रभावशाली जवाब है। इस तरह के जवाब धीरे-धीरे करके उत्तर कोरिया को खत्म कर देंगे। गौरतलब है कि दक्षिण कोरिया के बंद किए गए एक सौ से ज्यादा कारखानों में ५० हजार से ज्यादा उत्तर कोरियाई कामगार काम करते थे। कारखानों की बंदी से अब वे बेरोजगार हो गए हैं। दक्षिण कोरिया ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद से कहा है कि वह उत्तर कोरिया पर ऐसे प्रतिबंध लगाए जिससे वह किसी भी सूरत में अपने परमाणु हथियार विकसित न कर सके। लगभग एक महीने में हाइड्रोजन बम और रॉकेट का परीक्षण करने वाले उत्तर कोरिया पर कड़े प्रतिबंध लगाने के लिए जल्द ही सुरक्षा परिषद की बैठक होने वाली है। दक्षिण कोरिया के राजदूत ओ जून ने इस बार के प्रतिबंध असामान्य होने की आवश्यकता जताई है।