आईएस हमले के कारण इराक का 3000 साल पुराना शहर तबाह


बगदाद। आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) लगातार इराक के ऐतिहासिक शहरों को तबाह करने के अभियान में लगा हुआ है। इसी क्रम में अब उत्तरी इराक के हातरा शहर में इस आतंकी गुट ने तबाही मचाई है। तीन हजार साल पुराने इस शहर में मौजूद र्पािथयन साम्राज्य के अवशेषों को नष्ट कर दिया गया है।
इराक के पर्यटन और पुरावशेष मंत्रालय ने शनिवार को यह जानकारी दी। स्थानीय लोगों के हवाले से मंत्रालय ने बताया है कि शनिवार की सुबह इस शहर में जबरदस्त विस्फोट किया गया। इसके बाद आइएस के आतंकियों ने कुछ बड़ी इमारतों और अन्य अवशेषों को नष्ट कर दिया। मोसुल से ११० किमी दक्षिण-पाqश्चम में ाqस्थत हातरा यूनेस्को के विश्व विरासत सूची में शामिल है। इसके पहले आतंकियों ने इराक के एक अन्य प्राचीन शहर निमरूद को भी तबाह कर दिया था। इराक के एक अन्य ऐतिहासिक शहर मोसुल में भी ऐसी कार्रवाई को अंजाम दिया जा चुका है। संयुक्त राष्ट्र ने आइएस द्वारा ऐतिहासिक धरोहरों को नष्ट किए जाने पर िंचता जताई है। उसने इन घटनाओं को युद्ध अपराध करार दिया है। अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन वैâरी ने भी गहरा दुख जताया है। उन्होंने कहा कि प्राचीन सभ्यता को नष्ट करना िंनदनीय है।