आईएस ने 32 को उतारा मौत के घाट, पोस्ट की तस्वीरें


किरकुक। इस्लामिक स्टेट (आइएस) की व्रूâरता थमने का नाम नहीं ले रही है। आतंकियों ने किरकुक में २० लोगों को मौत के घाट उतारने के साथ ही मोसुल में समलैंगिकता के चार आरोपियों के सिर कलम कर दिए। आइएस आतंकियों ने लीबिया में भी आठ का सिर कलम कर दिया। अधिकारियों ने बताया कि किरकुक में आइएस का शिकार बने लोग आइएस के विरुद्ध बनी पैरामिलिट्री सेना का हिस्सा बनने की तैयारी में थे। सोशल मीडिया में इस हत्याकांड से जुड़ी तस्वीरें सामने आर्इं। इनमें दर्जन से ज्यादा शव खंभों पर लटके दिखाई दिए। मोसुल में आतंकियों ने समलैंगिकता के आरोप में २० से ३० साल के चार लोगों का सिर कलम कर दिया। इस्लामी कानून में समलैंगिकता को गंभीर आरोप माना गया। लीबिया में भी आतंकियों ने अल-घनी तेल क्षेत्र में आठ सुरक्षा र्किमयों का सिर कलम कर दिया। सैन्य प्रवक्ता ने बताया कि सिर कलम की घटना को देखने वाला एक कर्मचारी दिल के दौरे से मारा गया।
०आतंकियों के खिलाफ हमले जारी
उधर आइएस के खिलाफ अमेरिका की अगुआई में हमलों का दौर जारी है। सीरिया के पाqश्चमोत्तर प्रांत इदलिब में हवाई हमलों में नौ आतंकी मारे गए। अल-रक्का प्रांत में ३० लोगों के मारे जाने की खबर है। अल-रक्का में आइएस के कब्जे वाली तेल रिफाइनरियों को निशाना बनाया गया। इराकी सेना की ओर से आइएस के खिलाफ छेड़े गए अब तक के सबसे बड़े अभियान के बीच अमेरिकी सेना के प्रमुख जनरल र्मािटन डेंपसी बगदाद पहुंचे हैं। डेंपसी ने एक दिन पहले आइएस के खिलाफ लड़ाई में रणनीतिक धैर्य की बात कही थी। उन्होंने कहा कि इराकी सेना का प्रशिक्षण व सुन्नी आबादी के साथ सामंजस्य की इराकी सरकार की प्रतिबद्धता इस दिशा में सबसे अहम है। इराक सरकार ने आतंकियों की ओर से लगातार प्राचीन और ऐतिहासिक स्थलों को लक्ष्य बनाए जाने पर िंचता जताई है।
०पाकिस्तान का साथ चाहता है सऊदी अरब
सऊदी अरब ने आइएस के खिलाफ लड़ाई में पाकिस्तान से सैन्य सहायता की इच्छा जताई। सऊदी ने इसके बदले में र्आिथक पैकेज देने की पेशकश की। मीडिया में आई खबरों के अनुसार पिछले हफ्ते पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की सऊदी अरब यात्रा के दौरान इस मसले पर चर्चा की गई। हालांकि शरीफ ने इस संबंध में कोई भरोसा नहीं दिलाया।