अस्पताल में बेहोश मरीजों से सेक्स कर बनाता था वीडियो


लंदन । पुलिस ने एक ऐसे व्यक्ति को गिरफ्तार किया है जो अस्पताल के दुर्घटना और आकस्मिक वार्ड में एनेस्थिसिया के नशे में बेहोश महिला मरीजों से सेक्स करता था। वह अपनी इस घिनौनी हरकतों को बाकायदा कैमरे में रिकॉर्ड भी करता था। मामला तब सामने आया जब दो लड़कियों ने उसे लीजर सेंटर में झांकते हुए देखा। २९ वर्षीय एंड्रयू हचिंसन रेडक्लिप हॉस्पिटल में सीनियर मेल नर्स के रूप में काम करता है। यहां उसकी ड्यूटी दुर्घटना व आकस्मिक चिकित्सा वार्ड में लगी हुई थी। ड्यूटी के दौरान हचिंसन एनेस्थिसिया के नशे में बेहोश महिला मरीजों के साथ सेक्स करता था। इसके अलावा उसने अस्पताल से कैमरा भी चुराया था जिसका उपयोग वह महिलाओं के स्कर्ट के नीचे से देखने के लिए करता था। साथ ही उसने लीजर रूम में कपड़े बदल रही लड़कियों की क्लिप भी बनाई थी। अस्पताल के अलावा वह पैरामेडिक वॉलेंटियर के रूप में भी काम करता था। यहां भी उसने दो बेहोश महिलाओं के शरीर से खिलवाड़ किया था। हचिंसन तब पकड़ में आया जब दो महिला नर्साें ने उसे लीजर रूम के आसपास भटकते हुए पाया। उसे नवंबर २०१३ में गिरफ्तार कर लिया गया और उसके मोबाइल और लैपटॉप से पुलिस ने ढेर सारी अश्लील तस्वीरें और वीडियो बरामद किए। जिन महिलाओं और युवतियों की वीडियो बरामद हुई है, उनकी उम्र १० से ३५ साल के बीच थी। जब अधिकारियों ने पीड़ितों से संपंर्क किया तो उनका कहना था उन्हें इस बारे में कुछ भी नहीं पता क्योंकि उस वक्त वे बेहोश थीं या आरोपी ने छिपकर इन्हें फिल्माया था। हचिंसन को ऑक्सफोर्ड क्राउन कोर्ट के सामने पेश किया गया जहां उसने अपना अपराध कबूल कर लिया। अदालत ने उसे २८ चार्जेज में दोषी माना। इस केस में पुलिस केवल १० पीडि़तो को ही पहचान पाई जबकि बाकी किसी की पहचान नहीं हुई।