अमेरिका ने 54 भारतीयों को स्वदेश भेजा


वॉिंशगटन। शीर्ष अमेरिकी अधिकारी का कहना है कि अप्रैल में ५४ भारतीयों को वापस भारत भेज दिया गया है। इसके साथ ही इस माह भारतीयों का एक और दल भारत भेजा जाएगा। वाणिज्य दूतावास संबंधी मामलों के सहायक विदेश मंत्री माइकल थॉरेन बॉन्ड ने दोषी विदेशी अपराधियों को स्वदेश भेजने के मुद्दे पर कांग्रेस की सुनवाई के दौरान सांसदों से कहा, ‘भारत ने हटाए जाने के अंतिम आदेशों के तहत अपने नागरिकों को यात्रा दस्तावेज समय से जारी करने में सुधार किया है।’ साथ ही बॉन्ड ने बताया, ‘अप्रैल २०१६ में आइसीई (अमेरिकन इमीग्रेशन ऐंड कस्टम्स एनफोर्समेंट) चार्टर विमान से ५४ भारतीय नागरिक स्वदेश लौट चुके हैं। भारत सरकार जुलाई २०१६ में भी चार्टर विमान भेजने की तैयारी कर रही है।’ उन्होंने बताया, ‘भारत के सकारात्मक रास्ते पर होने से हम प्रोत्साहित हैं। मुाqश्कल मामलों पर बातचीत करने और प्रक्रियाओं को सरल तथा प्रभावी बनाने के लिए हमने हाल ही में त्रैमासिक बैठक शुरू की है। इसके जरिए इस मुद्दे पर हम भारत के साथ जुड़े रहेंगे।’
बता दें कि सीनेट ज्यूडीशयरी कमेटी के अध्यक्ष चक ग्रेसले ने पिछले महीने होमलैंड सिक्युरिटी मंत्री जेन जॉनसन को पत्र लिख कर कहा था कि भारत और चीन समेत २३ देश अमेरिका में अवैध रूप से मौजूद अपने नागरिकों को वापस बुलाने में सहयोग नहीं कर रहे। इसके साथ ही पत्र में ओबामा प्रशासन से अवैध प्रवासियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू करने और उन्हें प्रवासी तथा गैर-प्रवासी वीजा जारी करना बंद कर देने को कहा था। वहीं, बॉन्ड का कहना है कि विदेश विभाग और डिपार्टमेंट ऑफ होमलैंड सिक्युरिटी इस प्रक्रिया को जारी रखने के लिए भारत के साथ मिलकर काम कर रहे हैं।