3000 किलो खीचड़ी बनाने का विश्व कीर्तिमान


Image twitted by @RanjitVDeshmukh

नागपुर। स्थानीय शैफ विष्‍णु मनोहर ने रविवार को अब तक की सबसे अधिक 3000 किलो खीचड़ी एक ही बर्तन में बनाने का विश्व कीर्तिमान बनाया। यह आयोजन स्थानीय मैची परिवार संस्था और वाघमारे मसाले के संयुक्त तत्वावधान में किया गया। इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी भी उपस्थित थे। जब खीचड़ी बन गई, तो सबसे पहले नितिन गडकरी ने उसे चखा। गौरतलब है कि शैफ विष्‍णु मनोहर के नाम लगातार ५३ घंटे तक खाना बनाने का रिकार्ड भी दर्ज है।

खीचड़ी बनाने का यह कार्यक्रम नागपुर के चिटनिस पार्क में रविवार को संपन्न हुआ। रिकार्ड कायम करने के बाद समाचार एजेंसी से बात करते हुए शैफ विष्‍णु मनोहर ने कहा कि इस आयोजन के पीछे की मंशा खीचड़ी को राष्ट्रीय अन्न घोषित करने की मांग रखना है। वे पिछले दो वर्षों से इस प्रयास में लगे हुए हैं। उन्होंने कहा कि खीचड़ी एक ऐसा अन्न या व्यंजन है जो देश के हर कोने में अलग-अलग ढंग से बनती और खाई जाती है। हर वर्ग के लोग इसे खाते हैं। यह गुणकारी और सबसे सस्ती भी होती है।। बच्चा जब जन्म लेता है तो कुछ महीनों बाद जब वह अन्न लेना शुरू करता है तो शुरूआत खीचड़ी से ही की जाती है। बुजुर्गों को खीचड़ी दी जाती है, मरीज खीचड़ी खाकर स्वस्थ होते हैं।