मणिकार्णिका घाट पर चिता भस्म की होली


वाराणसी में रंग भरनी एकादशी के दूसरे दिन शमशान पर मणिकार्णिका घाट पर गणों द्वारा चिता भस्म से होली खेली जाती है।
Photo/EMS

वाराणसी। वाराणसी में रंग भरनी एकादशी के दिन भगवान भोलेनाथ के गौना उत्सव का कार्यक्रम बड़े उत्साह के साथ मनाया जाता है। इसके दूसरे दिन शमशान पर मणिकार्णिका घाट पर गणों द्वारा चिता भस्म से होली खेली जाती है। राग और विराग का यह अनूठा संगम केवल बनारस में देखने को मिलता है।

भोले बाबा की महिमा में इस चिता भस्म की होली के साथ फाग खेली जाती है। बोल बम बम और हर हर महादेव के उद्घोष से सारा वातावरण उल्लास और सरोवर से भरा रहता है। बाबा के दरबार में गुलाल की कारपेट बिछाई जाती है। परंपरा के अनुसार मणिकार्णिका घाट स्थित मंदिर में महाश्मशाननाथ का श्रृंगार और आरती का कार्यक्रम धूमधाम से मनाया गया।

– ईएमएस