दुनिया के सबसे खतरनाक पक्षी ने अपने ही मालिक का कर लिया शिकार


(PC : sandiegozoo.org)

अमरीका के फ्लोरिडा राज्य के गेइनविला क्षेत्र में एक ७५ वर्षीय व्यक्ति की जान चली गई। इस व्यक्ति की मौत का कारण कुछ और नहीं, बल्कि दुनिया के सबसे खतरनाक पक्षी कैसोवरी द्वारा किया गया हमला है। मृतक की पहचान मार्विन हाजोस के रूप में की गई है।

शुक्रवार को हुए यह दुःखद हादसा मृतक मार्विन के अपने निजी पार्क में घटा। पार्क में उसने एक लुप्त होती प्रजाति कैसोवेरी नामक पक्षी को पाल रखा था। इसी कैसोवरी पक्षी ने मार्विन को मौत के घाट उतार दिया। पक्षी ने मार्विन पर उस समय हमला कर उन्हें मौत के घाट उतार दिया जब वे पार्क में ही मौजूद पक्षियों के प्रजजन संबंधी कार्य को अंजाम दे रहे थे।

अलाचुआ काऊंटी फायर रेस्क्यू डिर्पामेंट के उपप्रमुख जेफ टेलर ने मीडिया को बताया कि घटना तब हुई जब मार्विन के आसपास कुछ पक्षी थे और वे किसी कारणवश गिर गये, तभी एक कैसोवरी ने उन पर अपने विशालकाय पंजों से धावा बोलकर उनको मौत के घाट उतार दिया। मार्विन को अस्पताल पहुंचाया गया, लेकिन वहीं उनकी मौत हो गई।

बता दें कि कैसोवरी मूलतः ऑस्ट्रेलिया और न्यू गिनी की पैदाईश है। यह आम तौर पर ६ फिट ऊंचा और लंबा, जिसका वजन लगभग ६० किलोग्राम होता है। एक प्रकार से कहा जा सकता है कि वह ईमूस पक्षी के समान ही होता है – शरीर पर काले पंख और विशिष्ट, चमकदार नीले सिर और गर्दन।

(PC : twitter/@mattstaggs)

कैसोवेरी को दुनिया का सबसे खतरनाक पक्षी इसलिये भी कहा जाता है क्योंकि उसके पैर का पंजा चार ईंच का खंजर जैसा नूकीला होता है। इसके पंजे का वार इतना घातक होता है कि वह एक ही किक में अपने शिकार को चित्त कर सकता है। घने जंगल में ५० किमी प्रति घंटे की रफ्तार से यह दौड़ सकता है।

न्यू गिनी के कुछ इलाकों में इस पक्षी को खाया भी जाता है। इसका शिकार भी होता है। वहीं अमेरिका में इसे खाने के इरादे से नहीं बल्कि एक लुप्त होती प्रजाति को संजोने के इरादे से पाला भी जाता है। अलबत्ता इसे पालने के लिये संबंधित विभाग की पूर्व मंजूरी और पालक को विशेष अनुभव की दरकार रहती है।