2017-सौगातों का साल


नई दिल्ली। बीता साल अहम बदलावों का रहा। गरीब-वंचित तक एलपीजी पहुंची। रेल यात्रियों के लिए एक रुपये में बीमा योजना शुरू हुई। सर्जिकल स्ट्राइक से पाकिस्तान को सख्त संदेश दिया गया तो नोटबंदी से कालेधन पर चोट की गई। नया साल भी ढेरों सौगात लाने वाला है। ये आम आदमी का जीवन स्तर दुरुस्त करेंगी और राष्ट्र निर्माण में सहायक होंगी।

1 – दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति

192 मीटर की ऊंचाई वाली मराठा सरदार छत्रपति शिवाजी की मूर्ति मुंबई में स्थापित की जाएगी। यह दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति होगी। इसकी ऊंचाई अमेरिका के स्टेच्यू ऑफ लिबर्टी से दोगुनी होगी। मूर्ति का निर्माण देश के जानेमाने मूर्तिकार राम सुतार कर रहे हैं। यह दिखने में बीस मंजिला इमारत जितनी ऊंची होगी।

 

2 – चालकरहित टैक्सी

उबर ने अमेरिकी सड़कों पर ड्राइवरलेस टैक्सी का परीक्षण शुरू कर दिया है। पहली टैक्सी का उत्पादन भी 2017 में होगा। सोनी, एचटीसी जैसी कंपनियां वर्चुअल रियल्टी (वीआर) हेडसेट लांच करेंगी। इससे हेडफोन की तरह ही इस साल वीआर हेडसेट का इस्तेमाल भी आम होगा। रोलेबल टीवी भी इस साल आएगा। विभिन्न उपकरण इंटरनेट ऑफ थिंग्स से लैस होंगे। लोग इन्हें मोबाइल फोन से नियंत्रित कर सकेंगें।

3 – एक फरवरी को बजट

सरकार एक फरवरी को आम बजट पेश करने की तैयारी में है। ये बजट ‘सिटिजन फ्रेंडली’होगा। आयकर छूट की सीमा 2.5 लाख से बढ़ाकर चार लाख हो सकती है। किसानों के लिए सस्ते कर्ज से लेकर उत्पादन बढ़ाने के उपायों पर भी जोर दिया जा सकता है। इस बार रेल बजट अलग से पेश नहीं किया जाएगा। समय से पहले आम बजट पेश किए जाने के पीछे सरकार की मंशा यह है कि योजनाओं पर खर्च करने को ज्यादा समय मिल सके।

 

4 – 83 उपग्रह भेजेगा इसरो

अंतरिक्ष अनुसंधान में एक के बाद एक कीर्तिमान स्थापित करने वाला इसरो इस साल एक और बड़ी उपलब्धि हासिल करने की तैयारी में है। जनवरी के अंत में यह एक बार में 83 उपग्रह अंतरिक्ष में भेजने का रिकॉर्ड बनाएगा। इनमें से 80 उपग्रह इजरायल, कजाखस्तान, नीदरलैंड, स्विट्जरलैंड, अमेरिका और अन्य देशों के होंगे। इनका कुल वजन 500 किग्रा होगा। इसरो के इतिहास में इस तरह का यह पहला अभियान है।

5 – 112 होगा आपातकाल नंबर

चाहे पुलिस की मदद लेनी हो या फिर एंबुलेंस सेवा या फिर अग्निशमन दल को बुलाना हो। नए साल में इन सभी सेवाओं के लिए अलग-अलग नंबरों पर कॉल नहीं करनी पड़ेगी। 2017 से 112 नंबर पर फोन करके देश के किसी भी कोने में हर प्रकार की आपातकालीन सेवाएं हासिल की जा सकेंगी। 112 देश भर के लिए आपातकाल नंबर होगा। कई देशों में ऐसी सुविधा है। यह बदलाव अमेरिका के आपातकाल नंबर 911 की तर्ज किया जा रहा है।

6- अंतरिक्ष में पर्यटन

बोइंग अपने सीएसटी-100 स्टारलाइनर कैप्सूल पर काम कर रहा है। इससे सात अंतरिक्ष यात्रियों को अंतरिक्ष में भेजा जा सकेगा। निजी स्पेस फर्म ब्लू ओरिजिन साल की शुरुआत में अपनी टेस्ट फ्लाइट अंतरिक्ष में भेजेगी। इसके जरिए कंपनी अंतरिक्ष में पर्यटन बढ़ाने की तैयारी में है। शनि ग्रह की कक्षा में 2004 से चक्कर लगा रहा नासा का शोधयान कैसिनी 15 सितंबर 2017 को स्वत: नष्ट हो जाएगा। इससे पहले यह ग्रह के 22 चक्कर लगाएगा।